चार जनवरी से कोसा, कॉटन और हाथकरघा वस्त्रों का भव्य प्रदर्शनी सह-विक्रय

हाथकरघा बलौदाबाजार-भाटापारा के सौजन्य से यह प्रदर्शनी बलौदाबाजार शहर के मध्य स्थित पंडित बाल्मीकि शुक्ल विप्र वाटिका गॉर्डन चौक में लगेगा।

By: lalit sahu

Published: 03 Jan 2020, 06:40 PM IST

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ शासन ग्रामोद्योग विभाग द्वारा महात्मा गांधी जी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य में बलौदाबाजार शहर में एक भव्य प्रर्दशनी सह-विक्रय का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें छतीसगढ़ का सुप्रसिद्ध कोसा, कॉटन और हथकरघा वस्त्रों का विशाल प्रर्दशनी होगा। हाथकरघा बलौदाबाजार-भाटापारा के सौजन्य से यह प्रदर्शनी बलौदाबाजार शहर के मध्य स्थित पंडित बाल्मीकि शुक्ल विप्र वाटिका गॉर्डन चौक में लगेगा। इस प्रदर्शनी का शुभारंभ 4 जनवरी से होगा जो 10 जनवरी तक चलेगा।
प्रदर्शनी प्रतिदिन सुबह 11 बजे से रात्रि 9 बजे तक खुला रहेगा। इस प्रदर्शनी के विशेष आर्कषक के रूप में महामहिम राष्ट्रपति जी के द्वारा सम्मानित छत्तीसगढ़ के कुशल बुनकरों द्वारा हाथों से निर्मित वस्त्रों का प्रर्दशन कर विक्रय किया जाएगा। इसके लिए 12 स्टॉलों को सजाया जा रहा है। इस मेले में उत्कृष्ट कलात्मक कोसा साडिय़ा, कोसा मलमल, कोसाड्रेस मटेरियल, कोसा सलवार सूट, कोसा बाफ्ता, सूती साडिय़ा शर्टिंग, बेड शीट, पिलो कवर, टॉवेल नेपकिन गमछा इत्यादि एक ही जगह पर मिलेगा। विभागीय मंत्री गुरु रूद्र कुमार ने बलौदाबाजार जिला सहित प्रदेशवासियों से आग्रह किया है कि इस मेला का लाभ लेवे और अधिक से अधिक उत्पादों का क्रय कर हाथकरघा को बढ़ावा देवे। ताकि इस व्यवसाय से जुड़े लोग अधिक से अधिक सक्षम व आत्मनिर्भर हो सके और गांधी जी के सपने को पूरा कर सके। वस्त्रों आदि सभी उत्पादों के खरीदी में लोगों को 20 प्रतिशत का विशेष का छूट दिया जाएगा।

Show More
lalit sahu Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned