कोरोना दहशत: मार्च के दूसरे हफ्ते से शुरू होगी कोचिंग, खौफ की वजह से छात्र नहीं पहुंच रहे शिक्षा लेने

- हॉस्टल की गाइड लाइन जारी नहीं होने से दूसरे जिले के छात्रों नहीं पहुंचे रायपुर
- छात्रों को कोचिंग में बुलाने राशि भी कम की संचालको ने

By: Ashish Gupta

Published: 28 Feb 2021, 08:25 PM IST

रायपुर. कोरोना संक्रमण के बढ़ते ग्राफ जिले के कोचिंग संचालकों की परेशानी बढ़ा दी है। रायपुर कलेक्टर ने भले ही कोचिंग खोलने का निर्देश पूर्व में जारी कर दिया हो, लेकिन अब तक कोचिंग संचालकों ने बैच शुरू नहीं किया है।

जिले के कोचिंग संचालकों की माने तो कोरोना काल के बाद पहला बैच जिले में 15 मार्च से शुरू होगा। अप्रैल माह में अन्य बैचों की शुरुआत होगी। संचालकों की मानें तो संक्रमण के चलते अभी ऑनलाइन क्लास का संचालन हो रहा है। ऑफलाइन क्लास में छात्र आ सके, इसलिए कोचिंग संचालकों द्वारा प्रमोशनल क्लास भी संचालित किया जा रहा है।

कांग्रेस की रैली में शामिल होने CM भूपेश पश्चिम बंगाल रवाना, BJP पर साधा निशाना, कही ये बड़ी बात

80 प्रतिशत कारोबार गिरा
कोचिंग संचालकों की माने तो जिले मे कोचिंग का सालाना कारोबार लगभग 60 करोड़ है। कोरोना काल में यह कारोबार गिरकर 20 प्रतिशत पर आ गया है। वर्तमान में कोचिंग संचालकों का कारोबार 10 प्रतिशत पर सिमटकर रह गया है। छात्र कोचिंग से जुड़े रहे, इसलिए कोरोना काल में ऑनलाइन शिक्षा देकर अपने कारोबार का संचालन कर रहे हैं।

हॉस्टल खोलने की मांग
दूसरे जिले से आ रहे छात्र जिले में रह सके, इसलिए कोचिंग संचालकों ने प्रशासनिक अधिकारियों से हॉस्टल खोलने की मांग की है। संचालकों का कहना है, कि छात्र सुरक्षित रह सकेंगे, तो वे पढ़ने भी आ सकेंगे। हॉस्टल के लिए प्रशासन से गाइड लाइन जारी करेंगा तो पालक भी अपने बच्चों को सुरक्षित महसूस करेंगे।

CM का ऐलान: जिस दिन केंद्र कह दे कि वैक्सीन नहीं देंगे, हम अपने लोगों को फ्री में टीके लगवाएंगे

सचदेवा कोचिंग सेंटर के संचालक मोती जैन ने कहा, जिले में लगभग 90 कोचिंग सेंटर है। कोरोना काल के बाद पहला बैच मार्च के दूसरे हफ्ते से लगेगा। अप्रैल माह से अन्य कोचिंगों की शुरूआत होगी। शासन से निवेदन है, कि हॉस्टल की गाइड लाइन जारी करें, ताकि छात्रों को रहने में परेशानी ना हो।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned