राजस्थान में फंसे छत्तीसगढ़ के कई छात्र, कलेक्टर ने मदद के लिए नियुक्त किए नोडल अधिकारी

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोटा में अध्ययनरत छत्तीसगढ़ के बच्चों के अभिभावकों से कहा है कि उन्हें किसी भी तरह से परेशान होने की जरूरत नही है।

By: Bhupesh Tripathi

Updated: 18 Apr 2020, 11:13 PM IST

रायपुर। नोवल कोरोना वायरस (covID-19) के संक्रमण की रोकथाम के लिए भारत सरकार ने पूरे देश में 3 मई तक लॉकडाउन घोषित किया है। इसी के चलते रायपुर जिला के कई छात्र राजस्थान के कोटा में फंस गए हैं।

इन छात्रों की आवश्यकताओं, समस्याओं आदि का निराकरण करने के लिए कलेक्टर ने डिप्टी कलेक्टर पूनम शर्मा ( मो.न. 94242 34044) को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है।इस संबंध में कोई भी व्यक्ति या नागरिक अपने आवेदन कमरा नंबर 13, कलेक्ट्रेट कार्यालय जिला-रायपुर में दे सकते हैं।

राजस्थान में फंसे छत्तीसगढ़ के कई छात्र, कलेक्टर ने मदद के लिए नियुक्त किए नोडल अधिकारी

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोटा में अध्ययनरत छत्तीसगढ़ के बच्चों के अभिभावकों से कहा है कि उन्हें किसी भी तरह से परेशान होने की जरूरत नही है, छत्तीसगढ़ सरकार बच्चों की सुरक्षा और उनकी व्यवस्था के लिए कृतसंकल्पित है।

उन्होंने कहा कि यदि कोटा में किसी बच्चे को कोई परेशानी हो तो उनके अभिभावक पूरी जानकारी के साथ अपने जिला कलेक्टर को अवगत कराएं ताकि कोटा में उनकी समस्याओं का निराकरण किया जा सके।

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned