कलेक्टर अचानक पहुंचे महिला के घर, अंधेरा देखकर पूछा- ऐसी रहती हो, बोली- बिल के लिए पैसे नहीं, फिर..

कलेक्टर अचानक पहुंचे महिला के घर, अंधेरा देखकर पूछा- ऐसी रहती हो, बोली- बिल के लिए पैसे नहीं, फिर..

Chandu Nirmalkar | Publish: Nov, 23 2018 04:44:42 PM (IST) | Updated: Nov, 23 2018 04:55:48 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

यहां उन्हें अपनी देहरी पर बैठी बुजुर्ग महिला तिलक बाई कुर्रे मिली।

रायपुर. छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले के कलेक्टर भीम सिंह अमृत मिशन एवं आवास योजना की प्रगति जानने गांव का दौरा कर रहे हैं। कलेक्टर भीम सिंह को अचानक देखकर लोग उस वक्त हैरान रह गए जब नवागांव पहुंचे। यहां उन्हें अपनी देहरी पर बैठी बुजुर्ग महिला तिलक बाई कुर्रे मिली।

उन्होंने वृद्धा से तकलीफ पूछी, वृद्धा ने बताया कि खप्पर वाला घर है। बारिश में बदहाल हो जाता है। छोटे से दरवाजे से कलक्टर अंदर गए, एक कमरे का घर था, भीतर गहरा अंधेरा, बाहर आकर पूछा, अंधेरे में क्यों रहती हैं। बिजली कनेक्शन नहीं मिला क्या? वृद्धा ने बताया कि बिजली कनेक्शन तो है बिल बहुत आता है तो नहीं चलाती। कलक्टर ने बताया कि लेकिन एकल बत्ती में तो बिजली की सुविधा है।

 

Chhattisgarh

आसपास के लोगों ने बताया कि एकल बत्ती सुविधा इनके बेटे ने रख ली है। कलेक्टर ने तुरंत इसे बहाल करने निर्देश दिए, उनके निर्देश पर आज निगम अमले ने तुरंत बल्ब लगा दिए।

कलक्टर को वृद्धा ने पेंशन संबंधी परेशानी भी बताई। निगम अधिकारियों ने बताया कि इनका एकाउंट पहले स्टेट बैंक में था, अब दूसरे बैंक में शिफ्ट हो गया है अतएव शायद राशि उसमें आई है। कलेक्टर ने इसके समाधान के निर्देश भी अधिकारियों को दिए।

कलेक्टर ने सभी निकायों से आधार संबंधी समस्या को लेकर पेंशन की दिक्कत झेल रहे लोगों का चिन्हांकन कर इनकी समस्या दूर करने निर्देश दिए। तिलक बाई के मकान के लिए भी सर्वे करने निर्देश उन्होंने निगम अधिकारियों को दिए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned