रजिस्ट्री में हो रही दिक्कतों से आईजी ऑफिस में कांग्रेसियों ने रात तक किया धरना

रजिस्ट्री में हो रही दिक्कतों से आईजी ऑफिस में कांग्रेसियों ने रात तक किया धरना

Deepak Sahu | Publish: Sep, 12 2018 10:00:28 AM (IST) Raipur, Chhattisgarh, India

रजिस्ट्री को लेकर हो रही दिक्कतों से आजिज आकर शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष विकास उपाध्याय ने पीडि़तों के साथ पंजीयक महानिरीक्षक कार्यालय में रात तक प्रदर्शन किया।

रायपुर. राजधानी रायपुर में रजिस्ट्री को लेकर हो रही दिक्कतों से आजिज आकर शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष विकास उपाध्याय ने पीडि़तों के साथ पंजीयक महानिरीक्षक कार्यालय में रात तक प्रदर्शन किया। कांगे्रसियों ने यहां दरी बिछाकर रात बिताने की व्यवस्था भी कर ली थी। दोपहर में घेराव करने के बाद कांग्रेसी पीडि़तों के साथ दफ्तर में धरने पर बैठे रहे।

रात तकरीबन १० बजे एसडीएम ने पहुंच कर प्रदर्शन खत्म करने को कहा और राजस्व रेकॉर्ड में शीघ्र सुधार करने का आश्वासन दिया। ताकि रजिस्ट्री में कोई दिक्कत न आए, तब जाकर प्रदर्शन समाप्त हुआ। कांग्रेसी तकरीबन 8 घंटे तक कार्यालय परिसर में ही बैठे रहे। शासन द्वारा भूमि से संबंधित राजस्व अभिलेख दुरुस्त करने, नक्शा, बिना बटांकन के रजिस्ट्री पर रोक से हो रही परेशानियों के कारण कांग्रेसियों के साथ सैकड़ों आम नागरिकों ने रजिस्ट्री दफ्तर में प्रदर्शन किया।

आम नागरिकों का कहना है कि आबादी भूमि, मकान की रजिस्ट्री नहीं हो रही है। शहर के छोटे-छोटे भूखण्ड के सीमांकन, बटांकन एवं पंजीयन में हो रही देरी से आम जनता पिछले कई महीनों से परेशान हो रही हैं। निजी जमीन के साथ-साथ रायपुर विकास प्राधिकरण और हाउसिंग बोर्ड के रजिस्ट्री भी महीनों से रुके हुए हैं।

बिना तैयारी के थोप दिए नियम
नागरिकों का कहना है कि जो व्यक्ति जमीन खरीदी-बिक्री का सौदा किया है, किन्तु राजस्व अधिकारियों द्वारा जमीन, मकान का नक्शा सॉफ्टवेयर में अपडेट नहीं हुआ है। नक्शा में बटांकन नहीं हो पाया है। इसके चलते खामियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ रहा है। राजस्व विभाग के अधीनस्थ कर्मचारियों की लापरवाही है।

नागरिकों ने कहा कि शासन को पहले अपने कर्मचारियों, पटवारी, तहसीलदार आदि को समय सीमा निर्धारित कर अभिलेख अध्ययन करने के बाद निर्देश देना चाहिए था, उसके बाद ही उक्त निर्णय लेना था, लेकिन ऐसा ना कर शासन आम जनता पर मनमाने पूर्ण नियम थोप दिया गया है। नागरिकों ने कहा कि जल्द ही कोई ठोस निर्णय नहीं लिया गया तो उग्र आंदोलन करेंगे।

Ad Block is Banned