कोरोना संकट: 90 से कम ऑक्सीजन लेवल तो होगी कोरोना सैंपल जांच, शीघ्र मिलेगी रिपोर्ट

अब 90 से कम ऑक्सीजन लेवल होने या सामान्य अवस्था में पल्स रेट 72-90 रेंज से बाहर होने वाले संदिग्ध मरीजों का कोविड-19 टेस्ट कराया जाएगा।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 26 Aug 2020, 08:00 AM IST

रायपुर . अब 90 से कम ऑक्सीजन लेवल होने या सामान्य अवस्था में पल्स रेट 72-90 रेंज से बाहर होने वाले संदिग्ध मरीजों का कोविड-19 टेस्ट कराया जाएगा। साथ ही रिपोर्ट शीघ्र देने की कोशिश की जाएगी। जांच दलों को पल्स ऑक्सीमीटर दिया गया है, जिससे किसी संदिग्ध, वृद्ध अथवा गंभीर बीमारी हिस्ट्री वाले व अन्य संभावित व्यक्तियों के ऑक्सीजन लेवल और पल्स रेट नापा जा रहा है।

कोरोना के लक्षणों वाले, वृद्ध अथवा किसी प्रकार की गंभीर बीमारी हिस्ट्री वाले लोगों को कोरोना वायरस से अधिक खतरा रहता है। इस वजह से उनकी समय से पहचान बहुत जरूरी है। जिले में इस काम के लिए एक्टिव सर्विलांस दल तैनात किए गए हैं, जो घर-घर जाकर लोगों से जानकारी जुटा रहे हैं।

यह जानकारी एकत्रित
किसी अन्य गंभीर बीमारी से ग्रसित हो, बुजुर्ग की जानकारी
गर्भवती महिला, सांस से संबंधित बीमारी की जानकारी
शुगर, उच्च एवं निम्न रक्तचाप की जानकारी
घर में दस वर्ष से कम उम्र के छोटे बच्चों की विस्तारपूर्वक जानकारी

कलेक्टर की अपील
कलेक्टर ने लोगों से कहा है कि कोरोना महामारी के जंग में हम तभी सफल होंगे जब कोई जानकारी छुपाएगा नहीं। एक्टिव सर्विलांस दलों के आने पर उनके साथ सम्मानजनक व्यवहार करें और उन्हें सही जानकारी दें। कोई जानकारी छुपाना या गलत जानकारी देना एपिडेमिक एक्ट, 1897 के अधीन दण्डनीय अपराध है तथा आपके या आपके परिवार के स्वास्थ्य के लिए खतरनाक भी हो सकता है।

Corona virus Corona virus Impact corona virus in india corona virus origin
Show More
Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned