अवेयरनेस के चलते जोमैटो-स्विगी को ना, सिर्फ घर के खाने को हां

युवाओं ने ऑनलाइन ऑर्डर से बनाई दूरी

By: Tabir Hussain

Updated: 20 Mar 2020, 12:21 PM IST

ताबीर हुसैन @ रायपुर। कोरोना वायरस के चलते लोगों में अवेयरनेस देखी जा रही है। एक तरफ प्रशासन इस वायरस से निपटने के लिए जुट गया है वहीं लोग भी अपने स्तर पर करोना को ना कह रहे हैं। शहर में ऑनलाइन फूड मार्केट में आई गिरावट से अंदाजा लगाया जा सकता है। राजधानी में प्रमुख दो घरपहुंच सेवा प्रदाता कंपनी है। हमने उनके डिलीवरी ब्वॉय से बात की और जाना कि अन्य दिनों की अपेक्षा लोग कितना ऑर्डर कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि ऑर्डर पहले से आधा हो गया है। इससे जहां होटल्स की बिक्री घटी है वहीं, डिलीवरी ब्वॉयज का भी नुकसान हुआ है लेकिन इन सबसे इतर खास बात ये कि युवा ये सब एहेतियात के लिए कर रहे हैं।

अवंति विहार और शंकर नगर में होती थी ज्यादा सप्लाई

डिलीवरी ब्वॉय के अनुसार पूरे शहर में सबसे ज्यादा ऑर्डर शंकर नगर और अवंति विहार से किए जाते हैं। हर घंटे 10 से 15 ऑर्डर इस इलाके से किए जाते हैं। यहां सुबह 10 से 11 के बीच ब्रेकफास्ट की बजाय लंच का ऑर्डर दिया जाता है।

80 परसेंट ऑर्डर घट गए

एमजी रोड स्थित मंजू ममता रेस्टोरेंट के संचालक रणवीर ने बताया कि दोनों ऑनलाइन कंपनियों से जितने ऑर्डर आते थे वे घटकर महज 20 प्रतिशत रह गए हैं। मरीन ड्राइव और शंकर नगर स्थित कैफे के संचालक इरफान ने बताया कि ऑर्डर जीरो रहा।

सबसे ज्यादा असर बर्गर पर

कुणाल कहते हैं मुझे बर्गर बहुत पसंद है। टेस्ट के लिए मैं दाम नहीं देखता। रायपुर का ऐसा कोई रेस्टोरेंट नहीं है जहां के बर्गर का स्वाद मैंने नहीं लिया हो। लेकिन अभी कोरोना के चलते मैं घर का भोजन प्रिफर कर रहा हूं। मालूम हो कि फूड आइटम में सबसे ज्यादा डिमांड बर्गर की है। जाहिर है इसके ऑर्डर पर भी असर पड़ेगा। इसे अलावा इटली, दोसा और सांभर बड़ा भी पसंदगी में शुमार था जिसकी स्पलाई प्रभावित हुई है।

अवेयरनेस के चलते जोमैटो-स्विगी का ना, सिर्फ घर के खाने को हां

शुरुआत खुद से हो

वैसे तो कोरोना से डरना नहीं लडऩा है। यह लड़ाई हर एक की है। मैं बाहर का खाना कम कर दिया हूं। जब तक स्थिति सामान्य नहीं हो जाती ऑनलाइन फूड को अवाइड करना है। ये जरूर है कि कोरोना से डरना नहीं है लेकिन सर्तकर्ता तो उससे भी महत्वपूर्ण है।
- स्मिता

अवेयरनेस के चलते जोमैटो-स्विगी का ना, सिर्फ घर के खाने को हां

प्रिकॉशन बेटर देन क्योर
कहते हैं तंदुरूस्ती हजार नियामतें। इसके लिए वही किया जाए जो सही है। मैं अपने इम्यूनिटी पॉवर पर ध्यान दे रही हूं क्योंकि इसकी कमी के चलते वायरस का अटैक होता है। घर में ऐसी चीजें अपनी डाइट में शामिल किया है जिससे तन और मन दोनों हैल्दी रहे।
- प्रीति चौबे

अवेयरनेस के चलते जोमैटो-स्विगी का ना, सिर्फ घर के खाने को हां

किचन में कर रही एक्सपेरिमेंट

ऑनलाइन सुविधा किसे पसंद नहीं। कंपनियां डिस्काउंट में अच्छी चीजें अवलेबल करा रही हैं। पर अभी जो समय चल रहा है उसमें हम जितना क्योर करें उतना बेहतर है। फिलहाल मैंने बाहर का खाना बंद कर दिया है। बल्कि मैं किचन में भी कुछ न कुछ एक्सपेरिमेंट करने लगी हूं।
-स्नेहा अग्रवाल

अवेयरनेस के चलते जोमैटो-स्विगी का ना, सिर्फ घर के खाने को हां

डिलीवरी ब्वॉय भी हो सकता है इफेक्टेड

जो लोग हम तक पहुंच रहे हैं क्या वे क्योर हैं? ऐसे में लोगों से मेलजोल भी एक दूरी के हिसाब से हो। अब चूंकि ऑनलाइन फूड डिलीवरी ब्वॉय लाते हैं, हो सकता है वे इफेक्टेड हों। इसलिए मैंने फिलहाल ऑर्डर बंद किया है।

- मयंक कर्रा

अवेयरनेस के चलते जोमैटो-स्विगी का ना, सिर्फ घर के खाने को हां
Corona virus
Tabir Hussain Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned