लापरवाही: निजी अस्पताल में कोरोना संदिग्ध की मौत, शव परिजनों को सौपा

मौत के पहले उनका कोरोना सैंपल लिया गया था, मगर अस्पताल प्रबंधन ने अपने स्टाफ के पिता का शव दबाव में आकर सौंप तो दिया, मगर बाद में रिपोर्ट पॉजिटिव आने से हर कोई दहशत में है। परिवार के सदस्यों ने, रिश्ते नातेदारों ने शव को छुआ था।

By: Karunakant Chaubey

Published: 15 Sep 2020, 10:30 PM IST

रायपुर. कोरोना संक्रमण लापरवाही से ही फैल रहा है। फिर चाहे वो लापरवाही आम लोग बरत रहे हों या अस्पताल प्रबंधन। मंगलवार को ऐसा ही एक मामला सामने आया, जहां तेलीबांधा स्थिति एक निजी अस्पताल ने कोरोना संदिग्ध मृतक का शव परिजनों को सौंप दिया। परिजनों ने दाहसंस्कार भी कर दिया। बताया जा रहा है कि बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए थे। मगर, जैसे ही मृतक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो हड़कंप मच गया।

घटना श्याम नगर तेलीबांधा गली नंबर 2 की है। यहां के रहने वाले प्रेमलाल विश्वकर्मा की निजी अस्पताल में मौत हो गई। वे एलआईबी डुंडा में ड्राइवर थे। मौत के पहले उनका कोरोना सैंपल लिया गया था, मगर अस्पताल प्रबंधन ने अपने स्टाफ के पिता का शव दबाव में आकर सौंप तो दिया, मगर बाद में रिपोर्ट पॉजिटिव आने से हर कोई दहशत में है। परिवार के सदस्यों ने, रिश्ते नातेदारों ने शव को छुआ था। ऐसे में कई लोग अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही के चलते कहीं न कहीं संदिग्ध हैं।

यह अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही है। जिला प्रशासन को इस बारे में जांच करनी चाहिए। मैं भी दिखवाती हूँ।
-डॉ. मीरा बघेल, सीएमएचओ, रायपुर

Coronavirus Deaths
Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned