कोरोना वायरस की दहशत : होली से पहले चिकन के दामों में भारी गिरावट

कोरोना के डर के कारण लोग मांसाहार खाने से अब बच रहे हैं, जिसकी वजह से चिकन का रेट लगातार गिरता जा रहा है।

By: bhemendra yadav

Published: 07 Mar 2020, 06:51 PM IST

रायपुर। कोरोना वायरस की दहशत से आलम यह है कि होली से पहले ही चिकन के दाम में भारी गिरावट दर्ज की गई है। जिसके कारण पोल्ट्री व्यवसाय को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है।
चीन में कहर बरपाने वाले कोरोना वायरस का असर अब छत्तीसगढ़ में चिकन की कीमतों पर दिख रहा है। दरअसल कोरोना के डर के कारण लोग मांसाहार खाने से अब बच रहे हैं, जिसकी वजह से चिकन का रेट लगातार गिरता जा रहा है।
हालत ये है कि क्षेत्र में इन दिनों चिकन का रेट कद्दू, बैगन से भी कम होने की उम्मीद हैं। बता दें कि अभी तक मांसाहार खाने से कोरोना वायरस फैलने की आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है लेकिन अफवाहों की वजह से लोग नॉनवेज खाने से परहेज कर रहे हैं। इसकी वजह से पोल्ट्री के कारोबार को झटका लगा है।
भारत में चिकन बिक्री में लगभग 50 प्रतिशत से अधिक की गिरावट आई है, जबकि पिछले एक महीने में इसके दाम 70 प्रतिशत तक नीचे आए हैं।

बस्तर के जंगलों में खनिज की खोज के लिए उड़ान भर रहे 750 छोटे विमान, जनता से आग्रह भयभीत न हो


चिकन से नहीं फैलता कोरोना वायरस
फिलहाल अभी अफवाहों का बाजार गर्म हैं। लेकिन यदि अगले 2-3 महीनों में यदि अफवाहों पर विराम लगता है तो इसके बाद चिकन की खपत बढ़ जाएगी और फिर चिकन की कमी की स्थिति उत्पन्न होगी। इसकी वजह से कीमतों में भारी वृद्धि हो सकती है। गोदरेज एग्रोवेट के प्रबंध निदेशक बी एस यादव ने कहा कि सरकार ने परामर्श जारी किया है कि कोरोना वायरस चिकन से नहीं फैलता है। छत्तीसगढ़ सहित राज्य सरकारों से भी अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा गया है।

72 सीटर विमान 29 से रायपुर से जगदलपुर के लिए भरेगी उड़ान, ये होंगी टाइमिंग सेड्यूल

जोगी ने भूपेश सरकार को दिए सुझाव: बोले- खरीदी केन्द्रों से उठाव नहीं इसलिए "काम के बदले अनाज योजना" में खपाए धान

यह है छत्तीसगढ़ का सबसे सुंदर जलप्रपात, जिससे अब तक है लोग अनजान

कोरोना वायरस
bhemendra yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned