छत्तीसगढ़ में अब इन तीन और जगहों पर होगी कोरोना की टेस्टिंग

संदिग्ध मरीजों की स्क्रीनिंग टेस्ट के लिए 1500 रुपए और कन्फर्मेशन टेस्ट के लिए अतिरिक्त 3 हजार रुपए निर्धारित किए गए हैं।

By: lalit sahu

Published: 22 Mar 2020, 06:27 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ में अब तीन और स्थानों पर कोरोना संक्रमण की जांच की सुविधा उपलब्ध होगी। अभी सिर्फ एम्स में ही जांच हो रही थी। देशभर में कोरोना के कहर के बीच बड़े स्तर पर जांच सुविधा उपलब्ध कराने की मांग उठ रही है। इस समय आईसीएमआर के पास करीब एक लाख टेस्टिंग किट हैं। दस लाख और किटों का ऑर्डर दिया गया है। अभी उन्हीं लोगों की जांच की जा रही है, जो विदेशों से लौटकर आए हैं या संक्रमित लोगों के सीधे संपर्क में आए हैं। इसी बीच प्राइवेट लैब में कोरोना टेस्टिंग की अनुमति दी गई है। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में भी तीन प्राइवेट लैब में टेस्टिंग की अनुमति मिली है।

कोरोना वायरस : विदेश से लौटे दो लोगों को किया गया नजरबंद

छत्तीसगढ़ में जिन दो निजी लैब को अनुमति दी गई है, उसमें डॉ. लाल पैथ लैब और एसआरएल डायगोन्सिटक सेंटर शामिल हैं । जगदलपुर मेडिकल कालेज में भी कोरोना टेस्ट की व्यवस्था की गई है। इससे पहले छत्तीसगढ़ में सिर्फ एम्स में जांच की व्यवस्था थी। नेशनल टास्क फोर्स की सिफारिश के अनुसार टेस्ट का अधिकतम शुल्क 4,500 रुपए से ज्यादा नहीं हो सकता। संदिग्ध मरीजों की स्क्रीनिंग टेस्ट के लिए 1500 रुपए और कन्फर्मेशन टेस्ट के लिए अतिरिक्त 3 हजार रुपए निर्धारित किए गए हैं। निर्देशों में यह भी कहा गया है कि जांच की फीस सब्सिडी रेट पर ली जा सकती है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी निर्देश में कहा गया है कि इस नियम का उल्लंघन करते पकड़े जाने पर कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Corona virus
lalit sahu Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned