राजधानी के स्लम और शहरी क्षेत्रों में ज्यादा सप्लाई हुई है कफ सिरप, पहली बार बड़ा कारोबारी गया जेल

उल्लेखनीय है कि कोडिन कफ सिरप का इस्तेमाल कई लोग नशा करने के लिए कर रहे हैं, जिससे इसकी खपत बढ़ गई है और इसमें अधिक मुनाफा देखकर कई मेडिकल दुकान वाले इसे बेच रहे हैं। तिरुपति फार्मा से पुलिस ने 50 पेटी कोडिन कफ सिरप जब्त किया था।

By: Karunakant Chaubey

Updated: 16 May 2020, 07:27 PM IST

रायपुर. नशे के लिए इस्तेमाल होने वाले प्रतिबंधित कफ सिरप की बिक्री तिरुपति फार्मा से राजधानी के स्लम इलाके और आसपास के नगरों और ग्रामीण इलाकों में ज्यादा हुई है। तिरुपति फार्मा के संचालक राजेश अग्रवाल को पुलिस ने जेल भेज दिया है। उसके पास मिलने दस्तावेजों की जांच में बड़े स्तर पर प्रतिबंधित कफ सिरप सप्लाई करने की जानकारी पुलिस को मिली है।

उल्लेखनीय है कि कोडिन कफ सिरप का इस्तेमाल कई लोग नशा करने के लिए कर रहे हैं, जिससे इसकी खपत बढ़ गई है और इसमें अधिक मुनाफा देखकर कई मेडिकल दुकान वाले इसे बेच रहे हैं। तिरुपति फार्मा से पुलिस ने 50 पेटी कोडिन कफ सिरप जब्त किया था। पहली बार पुलिस ने किसी बड़े मेडिकल कारोबारी को इस मामले में जेल भेजा है। कफ सिरप की सप्लाई रायपुर के लोकल कारोबारियों के अलावा दुर्ग-भिलाई, आरंग, महासमुंद, बलौदाबाजार जैसे छोटे शहरों और नगरों में भी सप्लाई की गई है।

लॉकडाउन के बाद बढ़ी मांग

लॉकडाउन लगने के बाद से कफ सिरप की मांग बढ़ गई थी। लॉकडाउन के चलते शराब दुकानें बंद हो गई। शराब दुकान बंद होने के बाद से अचानक कफ सिरप की मांग बढ़ गई थी। अधिकांश नशेड़ी कफ सिरप और गांजा का इस्तेमाल करने लगे। सवा सौ रुपए का कफ सिरप भी दो सौ रुपए में बिकने लगा था। दरअसल खांसी के उपचार में इस कफ सिरप का उपयोग किया जाता है, लेकिन एल्कोहल की मात्रा अधिक होने के कारण इसके सेवन से नशा होने के कारण ही नशेड़ी इसका इस्तेमाल करने लगे हैं।

बिना डॉक्टर की अनुमति के बेचते हैं

कोडिन कफ सिरप डॉक्टरों की बिना अनुमति के नहीं बेचा जाता है। इसके लिए डॉक्टर की पर्ची की आवश्यकता होती है, लेकिन कई मेडिकल दुकान संचालक बिना पर्ची के ही इसे बेचते हैं। केवल कफ सिरप का दोगुना रेट लेते हैं। कफ सिरप स्लम इलाकों में धड़ल्ले से बेचा जाता है। कई हिस्ट्रीशीटर इस धंधे में लगे हुए हैं। हालांकि पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार करके जेल भी भेजा है।

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned