मानसून सत्र में केवल चार बैठकें: विपक्ष ने कहा, कोरम पूर्ति के लिए बुलाया सत्र, CM ने यूं दिया जवाब

कोरोना संकट (Coronavirus Chhattisgarh Update) के बीच छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र (Monsoon session of chhattisgarh assembly) 25 अगस्त से शुरू हो रहा है। 28 अगस्त तक प्रस्तावित सत्र में केवल चार बैठकें होनी हैं।

By: Ashish Gupta

Published: 01 Aug 2020, 10:39 AM IST

रायपुर. कोरोना संकट (Coronavirus Chhattisgarh Update) के बीच छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र (Monsoon session of Chhattisgarh Assembly) 25 अगस्त से शुरू हो रहा है। 28 अगस्त तक प्रस्तावित सत्र में केवल चार बैठकें होनी हैं। राज्यपाल की ओर से हरी झंडी मिलते ही विधानसभा सचिवालय ने शुक्रवार को सत्र की अधिसूचना जारी कर दी।

बताया जा रहा है संक्रमण के खतरे को देखते हुए परिसर में कम से कम लोगों को प्रवेश देने की व्यवस्था की जा रही है। सत्र के पहले दिन दिवंगत पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी (Ajit Jogi) को श्रद्धांजलि दी जानी है। परंपरा रही है, सीटिंग विधायक को श्रद्धांजलि देने के बाद उस दिन की कार्यवाही स्थगित कर दी जाती है। ऐसी स्थिति में केवल 3 बैठकें होंगी।

4 को ही खुल जाएगा विधानसभा सचिवालय
राजधानी में 6 अगस्त तक लॉकडाउन है। इसकी वजह से विधानसभा सचिवालय को भी 6 अगस्त बंद किया गया था। अधिसूचना जारी होने के बाद छुट्टी का आदेश बदल दिया गया है। अब 4 अगस्त को ही विधानसभा सचिवालय खुल जाएगा।

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा, पिछले विधानसभा सत्र में भी खानापूर्ति हुई थी। एक दिन में बिना चर्चा के बजट व संशोधित विधेयक पारित कर दिए गए थे। उस समय मानसून सत्र 10 दिन का रखने की बात हुई थी। प्रदेश में ऐसी बहुत सी घटनाएं हुई हैं, इसे विधानसभा में लाना आवश्यक हैं। चार दिन के सत्र में 1 दिन श्रद्धांजलि में निकल जाएगा। केवल कोरम पूर्ति के लिए यह सत्र बुलाया गया है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chhattisgarh CM Bhupesh Baghel) ने कहा, भारतीय जनता पार्टी 15 साल सरकार में थी। वे स्वयं विधानसभा अध्यक्ष रहे हैं। चार-पांच से अधिक बैठक नहीं होती थी। कोरोना काल में भी हम बैठक रख रहे हैं और चर्चा करा रहे हैं यह काम नहीं है।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned