COVID 19: आयुर्वेद कॉलेज की आईपीडी के बाद ओपीडी भी बंद, मरीज परेशान

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में कोरोना मरीजों (Raipur Coronavirus Update) की बढ़ती संख्या को देखते हुए जीई रोड स्थित शासकीय आयुर्वेद कॉलेज की आईपीडी (जहां मरीज भर्ती होते हैं) को बंद कर, उसकी जगह पर कोरोना वार्ड तैयार किया गया।

By: Ashish Gupta

Published: 02 Aug 2020, 04:40 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में कोरोना मरीजों (Raipur Coronavirus Update) की बढ़ती संख्या को देखते हुए जीई रोड स्थित शासकीय आयुर्वेद कॉलेज की आईपीडी (जहां मरीज भर्ती होते हैं) को बंद कर, उसकी जगह पर कोरोना वार्ड तैयार किया गया। अब ओपीडी को भी बंद कर दिया गया है। यहां भी कोरोना मरीजों को भर्ती करने के लिए बेड लगाए जा रहे हैं। आने वाले वर्किंग डे (मंगलवार) से ओपीडी बंद रहेगी।

शनिवार को आयुष संचालक डॉ जीएस बदेशा, जिला प्रशासन और मुख्य चिकित्सा अधिकारी आयुर्वेद कॉलेज पहुंचे। निरीक्षण किया गया। तय किया गया है कि ओपीडी में भी बेड लगाया जाएं, यह काम तत्काल शुरू भी हो गया। अब सवाल किया है कि रोजाना आयुर्वेद की ओपीडी में आने वाले 200 से 220 मरीज कहां जाएंगे? वे कहां से इलाज पाएंगे, दवा पाएंगे?

आयुर्वेद कॉलेज के प्रोफेसर-डॉक्टर खुलकर इस व्यवस्था का विरोध नहीं कर रहे हैं, क्योंकि कोरोना मरीजों को भर्ती करने की व्यवस्था जरूरी है। मगर, उनका कहना है कि जैसे एम्स और अंबेडकर अस्पताल में सामान्य ओपीडी बंद नहीं की गई है। वैसे ही आयुर्वेद की ओपीडी बंद नहीं की जानी चाहिए। इस पैथी से इलाज करवाने वाले भी काफी अधिक हैं।

आयुर्वेद कॉलेज रायपुर के अधीक्षक डॉ प्रवीण जोशी ने कहा कि ओपीडी में रोजाना 200 से 220 मरीज आते हैं। उन्हें तो परेशानी होगी ही होगी। हम क्या कर सकते हैं, ऊपर से आदेश है। मरीज तो भटकेंगे ही।

स्वास्थ्य सचिव निहारिका बारिक ने कहा कि आयुर्वेद से इलाज करवाने वाले मरीजों को परेशानी नहीं होगी। उसके लिए जल्द व्यवस्था बनाई जाएगी।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned