लॉकडाउन के दौरान लापरवाही बढ़ी तो बढ़ सकता है कर्फ्यू, हर हाल में रखें सोशल डिस्टेसिंग का ख्याल

पड़ोसी राज्यों की स्थिति बेहत खराब है। जरूरत पडऩे पर अगले शनिवार को फिर से कफ्र्यू लगाया जा सकता है। जिला प्रशासन हर तरह के प्रयास जनता की सुविधा के लिए कर रहा है। जिला प्रशासन ने स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से अब दवाओं की होम डिल्वरी की सुविधा शुरू कर दी है।

By: Karunakant Chaubey

Published: 06 Apr 2020, 08:12 PM IST

रायपुर। कलेक्टर के द्वारा लगाया गया 48 घंटे का कर्फ्यू सोमवार को तीन बजे समाप्त हो गया। पुलिस और प्रशासन की सख्ती के बाद पूरे 48 घंटे सफल रहे। इस पर जिला प्रशासन और कलेक्टर ने लोगों का धन्यवाद दिया है। प्रशासन से संकेत मिले है कि आगे भी यदि लोग इसी तरह लॉक डाउन के पालन में लापराही बरतेंगे तो फिर से कफ्र्यू लगाया जा सकता है। प्रशासन का मानना है कि कोरोना से जंग जारी है। लेकिन खतरा अभी टला नहीं है।

पड़ोसी राज्यों की स्थिति बेहत खराब है। जरूरत पडऩे पर अगले शनिवार को फिर से कफ्र्यू लगाया जा सकता है। जिला प्रशासन हर तरह के प्रयास जनता की सुविधा के लिए कर रहा है। जिला प्रशासन ने स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से अब दवाओं की होम डिल्वरी की सुविधा शुरू कर दी है। प्रशासन ने जिले के मेडिकल स्टोरों के मेल एड्रेस और व्हाटसअप नंबर जारी कर दिया है। जिसके माध्यम से लोग घर पहुंच दवाओं की सुविधा ले पाएं।

घर-घर पहुंच रही है खाद्य सामग्री

प्रशासन ने लोगों की सुविधा के लिए खाद्य सामग्री उपलब्ध कराने के लिए भी हेल्प लाइन नंबर जारी कर दिया है। इतना ही नहीं प्रशासन एनजीओ और अन्य संस्थाओं, जनप्रतिनिधियों के माध्यम से भी राहत कार्य किए जा रहे है।

लोग यदि लॉक डाउन के पालन में लापरवाही करते हैं तो प्रशासन फिर सख्ती करते हुए कफ्र्यू लगाने को मजबूर हो सकता है। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सोशल डिस्टेसिंग व घर पर रहना जरूरी है।

-डॉ.एस.भारतीदासन, कलेक्टर रायपुर

coronavirus
Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned