प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी के बयान से छत्तीसगढ़ BJP के अंदर खलबली, चुनाव से पहले बड़े फेरबदल के संकेत

Chhattisgarh BJP News: भाजपा की प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी के एक बयान ने छत्तीसगढ़ भाजपा के अंदर खलबली मचा दी है। उन्होंने नेतृत्व परिवर्तन को लेकर दो टूक कह दिया है कि कहीं चूक है तो ठीक करना ही होगा।

By: Ashish Gupta

Updated: 19 Sep 2021, 03:54 PM IST

रायपुर. Chhattisgarh BJP News: भाजपा की प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी (Chhattisgarh BJP Incharge D Purandeswari) के एक बयान ने छत्तीसगढ़ भाजपा के अंदर खलबली मचा दी है। उन्होंने नेतृत्व परिवर्तन को लेकर दो टूक कह दिया है कि कहीं चूक है तो ठीक करना ही होगा। हमें संगठन को मजबूत करना है। उनका यह बयान साफ संकेत देता है कि विधानसभा चुनाव 2023 के पहले छत्तीसगढ़ भाजपा में बड़ा फेरबदल होगा। इसके लिए अभी से पदाधिकारी तैयार रहें। हालांकि छत्तीसगढ़ में प्रदेश पदाधिकारियों की नियुक्ति से एक धड़ा नाराज चल ही रहा है।

सेवा और समर्पण अभियान की समीक्षा के लिए दिल्ली से रायपुर पहुंचीं पुरंदेश्वरी ने कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में भाजपा प्रदेश पदाधिकारियों के साथ बैठक की। इसमें राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिव प्रकाश, प्रदेश के सह प्रभारी नितिन नबीन, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय, संगठन महामंत्री पवन साय, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, उपाध्यक्ष शिवरतन शर्मा, महामंत्री नारायण चंदेल, भूपेंद्र सबन्नी मौजूद रहे।

इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के जन्मदिन 17 सितंबर से शुरू हुए 20 दिवसीय अभियान की समीक्षा हुई। साथ ही वॉलिंटियर अभियान को लेकर चर्चा हुई। प्रदेश अध्यक्ष साय ने कहा कि सेवा और समर्पण अभियान के तहत केंद्र की नीतियों को जनता तक पहुंचाना। रक्तदान, स्वच्छता, सेवा के कार्यों को लेकर अभियान जारी रहेगा।

यह भी पढ़ें: राजस्थान, हरियाणा, मध्य प्रदेश में इकाई में मिल रहे कोरोना मरीज, छत्तीसगढ़ में अभी भी 30 से अधिक

'थूक' वाले बयान पर बोलीं-कांग्रेस की ऐसी सोच दुखद
बस्तर चिंतन शिविर में पुरंदेश्वरी का थूक वाला बयान खासा विवादों में रहा था। कांग्रेस हमलावर थी तो भाजपा बचाव की दिखी थी। मगर, पहली बार अपने इस बयान पर पुरंदेश्वरी ने कहा कि मैंने समाचार देखा, कांग्रेस की ऐसी सोच दु:खद है।

भाजपा में ही सीएम बदलने की हिम्मत: रमन
डॉ. रमन ने भी कांग्रेस पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की स्थिति आज क्या है, जनता देख रही है। मुख्यमंत्री बदलने और नए लोगों को मौका देने की हिम्मत भाजपा में ही है। कांग्रेस को तो आज 4 महीने लग गए मुख्यमंत्री को बदलने का विचार करते हुए, बावजूद इसके आज छत्तीसगढ़ में कोई मुख्यमंत्री नहीं है।

यह भी पढ़ें: कोरोना के संभावित तीसरी लहर के बीच बच्चों में वायरल फीवर के साथ दिखे ये लक्षण, तो न करें अनदेखी

धर्मांतरण के विरुद्ध जारी आंदोलन पर बनी रणनीति- बैठक में शिव प्रकाश, पुरंदेश्वरी, नबीन, डॉ. रमन, साय और कौशिक के साथ बैठक में मौजूद पदाधिकारियों ने धर्मांतरण को लेकर जारी आंदोलन पर चर्चा की। 21 सितंबर को भाजपा प्रदेशभर में गिरफ्तारी देगी। सूत्रों के मुताबिक बैठक में तय किया गया कि सभी बड़े नेता जिलों में मौजूद रहेंगे। आंदोलन को कार्रवाई होने तक जारी रखना है।

यह भी पढ़ें: COVID-19: रायगढ़ ने बनाया रिकॉर्ड, 100 प्रतिशत आबादी को लगी कोरोना की पहली डोज

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned