भिलाई के बाद अब दुर्ग में फैला महामारी का खौफ, डेंगू से एक बुजुर्ग महिला ने तोड़ा दम

भिलाई के बाद अब दुर्ग में फैला महामारी का खौफ, डेंगू से एक बुजुर्ग महिला ने तोड़ा दम

Deepak Sahu | Publish: Sep, 10 2018 09:10:06 AM (IST) Raipur, Chhattisgarh, India

रविवार को रायपुर के निजी अस्पताल में इलाज के दौरान महिला ने दम तोड़ दिया

भिलाई. डेंगू भिलाई, चरोदा के बाद अब दुर्ग में भी कहर बरपाने लगा है। रविवार को शंकर नगर दुर्ग निवासी सीता पवार (61) की मौत हो गई। चार दिन से उनका इलाज चल रहा था।

रविवार को रायपुर के निजी अस्पताल में इलाज के दौरान महिला ने दम तोड़ दिया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. गंभीर सिंह ठाकुर ने बताया कि शंकर नगर वार्ड निवासी सीता पवार को सिर दर्द, सर्दी खांसी, हाथ पैर में दर्द और बुखार की शिकायत थी। परिजनों ने जिला चिकित्सालय में ६ सितंबर को महिला की जांच कराई थी।

रैपिड किट जांच में एनएस-१ डेंगू पॉजीटिव और हीमेटो जांच में थोम्बोसाइटोपिया (मतिष्क में सूजन) पाया गया। भर्ती के दौरान प्लेटलेट्स डेढ़ लाख थी। दूसरे दिन प्लेटलेट्स डाउन हो गया। बेहतर इलाज के लिए उसे रायपुर रेफर किया गया, जहां मस्तिष्क में सूजन की वजह से मौत हो गई। डेंगू से दुर्ग में यह पहली मौत है। भिलाई निगम क्षेत्र में ४०,चरोदा निगम २ लोगों की मौत हो चुकी है। अब तक डेंगू से यहां ४३ लोगों की मौत हो चुकी है।

दुर्ग-भिलाई सहित प्रदेश के कई अन्य शहरों को डेंगू ने अपनी चपेट में ले लिया है। भिलाई में ही 321 पॉजीटिव मरीजों का उपचार चल रहा है। इसी बीच लगातार हो रही मौतों और पॉजीटिव मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग की ओर से दुर्ग समेत राजधानी में भी स्वास्थ्य शिविरों के माध्यम से घर-घर जाकर लोगों को उचित सलाह के साथ संभावित मरीजों की जांच की जा रही है। ये डेंगू से 43 मौत है। पिछले दो दिनों में डेंगू से दो लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।

अभी भी भिलाई में 171 की रिपोर्ट का इंतजार
दुर्ग जिले के 321 डेंगू के मरीजों का इलाज जारी है। आज विभाग की 32 टीमों ने 5709 घरों का निरीक्षण किया, जिसमें अब तक 209 पॉजिटिव मरीज मिले हैं, साथ ही 171 की जांच रिपोर्ट आनी बाकी है। स्थिति नियंत्रण में है, साथ ही हम किसी भी तरह की अप्रिय घटना से निपटने को पूर्णत तैयार हैं।

Ad Block is Banned