पहले मंडियों में जानवर बिकते थे, अब विधायक बिक रहे: दिग्विजय

- भूपेश सरकार की तारीफ, भाजपा पर साधा निशाना
- दुर्ग जाकर मोतीलाल वोरा के परिजनों से की मुलाकात

By: Bhupesh Tripathi

Published: 28 Dec 2020, 08:42 PM IST

रायपुर. मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने भाजपा को लेकर बड़ा बयान दिया है। एक दिवसीय प्रवास पर पहुंचे दिग्विजय ने कहा, भाजपा के पास काली कमाई का पैसा है। जैसे पहले मंडियों में जानवर बिकते थे, वैसे अब फार्म हाउस में विधायक बिक रहे हैं। दिग्विजय सिंह ने दुर्ग पहुंचकर पूर्व मुख्यमंत्री व वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा के परिजनों से मुलाकात की और श्रद्धासुमन अर्पित किए।

जुनेजा के अड्डे पर ली चाय की चुस्की
दुर्ग से रायपुर पहुंचने पर दिग्विजय सिंह ने रायपुर उत्तर विधायक व हाऊसिंग बोर्ड चेयरमैन कुलदीप जुनेजा के देवेन्द्र नगर चौराहे पर स्थित अड्डे पर स्वास्थ्य मंत्री व शिक्षा मंत्री के साथ चाय की चुस्की ली। इस दौरान प्रमुख रूप से प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव, प्रेमसाय सिंह टेकाम, पूर्व मंत्री सत्यनारायण शर्मा आदि मौजूद रहे। दिग्विजय पार्टी के पुराने नेता और दिग्विजय के करीबी माने जाने वाले हमीद हयात के घर लंच करने पहुंचे। इस दौरान गाड़ी मंत्री टीएस सिंहदेव ने ड्राइव की। साथ में शिक्षामंत्री प्रेम साय भी थे।

छत्तीसगढ़ सरकार के कामों को सराहा
दिग्विजय ने छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार के खुलकर तरीफ की। उन्होंने कहा प्रदेश सरकार महात्मा गांधी के सपनों को साकार करते हुए, गांव, किसान, संस्कृति की खुशहाली के लिए काम कर रही है। यहां की स्थिति अन्य राज्यों से बेहतर है।

प्रदेश अध्यक्ष मरकाम से की मुलाकात
दिग्विजय सिंह राज्य अतिथि गृह पहुना में रूके। यहां कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने सहित अन्य नेताओं ने उनसे मुलाकात की।

------------------------
सरोज का पलटवार, 1995 में खजुराहो की होटल में क्या खरीद रहे थे?
दिग्विजय सिंह के बयान पर राज्यसभा सांसद सरोज पाण्डेय और विधायक अजय चंद्राकर ने पलटवार किया है। सरोज ने ट्वीट में लिखा, दिग्विजय सिंह जी आप दुर्ग वोरा जी के निधन पर शोक जताने आये थे या राजनीति करने। उन्होंने आगे तंज कसते हुए लिखा है, जानवरों की खरीद फरोख्त से याद आया जब आप मुख्यमंत्री थे तब 1995 में खजुराहो के होटल में भाजपा की गुजरात सरकार गिराने के लिए आप क्या खरीद रहे थे और चारागाह के रूप में अपना काला धन क्यों लगा रहे थे।

दिग्विजय अपनी पारिवारिक विरासत के बारे में बेहतर जानते हैं: चंद्राकर
इधर, प्रदेश प्रवक्ता व पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने कहा, कांग्रेस का जैसा राजनीतिक चरित्र रहा है, कांग्रेस के नेताओं को पीलिया के मरीज की तरह चारों ओर पीला-पीला ही नजर आता है। चंद्राकर ने कहा कि दिग्विजय सिंह भाजपा पर आरोप लगा रहे हैं, तो जाहिर है कांग्रेस विधायकों के बिकने की बात कर रहे होंगे। दिग्विजय ख़ुद अपनी पारिवारिक विरासत के बारे में बेहतर जानते हैं। स्व. वोरा जी के संस्मरण में ग़ुलाम नबी आजाद ने लिखा ही था कि पर्यवेक्षक बन कर जाने के लिए उन्हें वोरा के अलावा और कोई ईमानदार नेता नहीं मिला था।

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned