कोर्ट के कर्मचारी ने कलेक्टर ऑफिस में खुद पर पेट्रोल डालकर लगा ली आग, मच गई अफरा-तफरी

कोर्ट के कर्मचारी ने कलेक्टर ऑफिस में खुद पर पेट्रोल डालकर लगा ली आग, मच गई अफरा-तफरी

Chandu Nirmalkar | Publish: Oct, 25 2018 04:13:40 PM (IST) Raipur, Chhattisgarh, India

मौके पर मौजूद पुलिस के जवान व लोगों ने अपने आप पर आग लगाने वाले को आनन-फानन में मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचाया।

रायपुर. छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव कलक्टोरेट के सामने उस समय अफरा -तफरी मच गई जब एक बुजुर्ग साइकिल से पहुंचा और अपने आप पर मिट्टी तेल छिड़कर कर आग लगा ली। घटना में अग्नि स्नान करने वाला गंभीर रूप से जल गया है। मौके पर मौजूद पुलिस के जवान व लोगों ने अपने आप पर आग लगाने वाले को आनन-फानन में मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचाया। गंभीर स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने उसे रायपुर रेफर कर दिया। बुजुर्ग ने आग किस वजह से लगाई है, इसका खुलासा नहीं हुआ है। पुलिस मामला दर्ज कर विवेचना में जुटी है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आजाद चौक मोतीपुर निवासी लगभग 52 वर्षीय नकुल राम गोड पिता सुखित राम बुधवार को शाम करीब साढ़े 4 बजे साइकिल में सवार होकर कलक्टोरेट के सामने सर्विसलेन से पहुंचा। बाउंड्रीवाल से सटे सर्विसलेन के पास नकुल राम साइकिल से नीचे उतरा और अपने आप पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा ली।

तत्काल पहुंची 112
नकुल के शरीर में आग की लपटे देखते ही आस-पास मौजूद लोग मौके पर पहुंचे और आग को बुझाने की कोशिश किए। इस दौरान किसी ने घटना की जानकारी एम्बूलेंस 112 और पुलिस को दी। चुनाव की वजह से कलक्टोरेट परिसर में पुलिस बल के जवानों की तैनाती है। तत्काल पुलिस के जवान व 112 मौके पर पहुंची और नकुल को मेडिकल कॉलेज अस्पताल लेकर गई। घटना में नकुल बुरी तरह जल गया है और वह कुछ बोलने की स्थिति में नहीं है। फिलहाल पुलिस मामले की विवेचना में जुटी है।

सिविल कोर्ट में था कर्मचारी, मानसिक रोगी होने से सेवानृवित्त किया था विभाग ने
पड़ोसियों ने बताया कि नकुल जिला न्यायालय में कर्मचारी था और कुछ सालों से मानसिक रुप से बीमार हो गया था। बीमारी की वजह से उसे सेवा निवृत्ति दे दी गई थी। बताया जा रहा है कि बीमारी की वजह से वह गली मोहल्लों में गाली गलौज करता था। इसकी वजह से उसके परिजन उसे घर में ही रखते थे।

बुधवार को मौका पा कर वह घर से निकला और साइकिल से कलक्ट्रोरेट के सामने पहुंच कर अपने आप को पेट्रोल डाल कर आग के हवाले कर दिया। इस मामले में यह सवाल उठ रहा है कि नकुल अगर मानसिक रोगी था तो वह कलक्टोरेट के सामने ही आ कर आग क्यो और किस वजह से लगाई। मिली जानकारी के अनुसार नकुल के थैले में मोटा पेपर मिला है। जिसमें कुछ विभागों में शिकायत की कापी है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned