DKS मामला: PNB अफसर का आरोप, पुलिस ने गलत FIR दर्ज की, नियम के तहत जारी हुए लोन

दाऊ कल्याण सिंह (DKS) सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल में करोड़ों रुपए के घोटाले में गिरफ्तार पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के एजीएम सुनील अग्रवाल ने कहा कि पुलिस ने गलत एफआईआर (FIR) दर्ज की है। पुलिस के आरोपों पर जवाब देते उन्होंने कहा, लोन की पूरी प्रक्रिया तय मापदंडों के अनुरुप हुई है।

By: Ashish Gupta

Published: 18 May 2019, 03:21 PM IST

रायपुर. दाऊ कल्याण सिंह (DKS) सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल में करोड़ों रुपए के घोटाले में गिरफ्तार पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के एजीएम सुनील अग्रवाल ने कहा कि पुलिस ने गलत एफआईआर (FIR) की है। पुलिस के आरोपों पर जवाब देते उन्होंने कहा, लोन की पूरी प्रक्रिया तय मापदंडों के अनुरुप हुई है।

एजीएम सुनील अग्रवाल ने कहा, मेरे कार्यकाल में लोन की स्वीकृति हुई और केवल 10 करोड़ जारी हुए थे, बाकी 54 करोड़ बाद में जारी हुए है, उस समय मैं रायपुर में नहीं था। उन्होंने बताया कि अप्रैल 2018 से मैं दिल्ली में हूं।

बतादें कि दाऊ कल्याण सिंह में करोड़ों रुपए के घोटाले में पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank) के एजीएम सुनील अग्रवाल के रूप में पहली गिरफ्तारी हुई है। पुलिस की तीन सदस्यीय टीम ने एजीएम सुनील को दिल्ली से पकड़ा। सुनील अग्रवाल पर आरोप है कि दस्तावेजों का परीक्षण और बारीकी से जांच किए बिना डीकेएस के लिए 64 करोड़ रुपए का लोन स्वीकृत कर दिया।

डीकेएस में करोड़ों रुपए के फर्जीवाड़ा की शिकायत पर जांच टीम बनाई गई थी। टीम ने अपनी रिपोर्ट में डीकेएस के तत्कालीन अधिकारियों द्वारा 50 करोड़ रुपए के घोटाला (DKS Scam) का खुलासा किया था। इस रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने डीकेएस के पूर्व अधीक्षक डॉ. पुनीत गुप्ता समेत अन्य के खिलाफ धोखाधड़ी व अन्य धाराओं में अपराध दर्ज किया है।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned