रायपुर लूट-मर्डर केस में पुलिस ने मृतक के दोस्तों और संदेहियों से की पूछताछ, जल्द होगा खुलासा

रायपुर के टिकरापारा में नारियल बेचने वाले युवक के हत्या मामले में पुलिस ने शुक्रवार को मृतक के दो दोस्तों समेत संदेहियों को हिरासत में लिया है।

By: Ashish Gupta

Updated: 03 Jan 2020, 02:46 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के टिकरापारा में नारियल बेचने वाले युवक के हत्या मामले में पुलिस ने शुक्रवार को मृतक के दो दोस्तों समेत संदेहियों को हिरासत में लिया है। पुलिस ने मृतक के दोस्त प्रमोद, मोहसिन समेत संदेहियों से हत्या मामले में पूछताछ कर रही है। खबरों के अनुसार पुलिस को पूछताछ में कई अहम सुराग हाथ लगे हैं। खबरों की मानें तो पुलिस देर शाम तक इस हत्याकांड का खुलासा कर सकती है।

ये है पूरा मामला
दरअसल, रायपुर के टिकरापारा इलाके में गुरुवार को रात 9.30 बजे नारियल बेचने वाले युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। गोली मारने से पहले बदमाशों ने उससे लूटपाट की। इसका विरोध करने पर उसके सीने में नजदीक से दो गोली मारी गई। इसके बाद आरोपी भाग निकले। घटना मृतक के घर से कुछ दूरी पर ही हुई है। गोली मारकर लूटपाट की घटना से शहर की कानून व्यवस्था पर सवाल उठने लगे हैं। इससे पहले भी कई बार गोली मारकर लूट की घटना हो चुकी है। पुलिस के मुताबिक गोकुलनगर निवासी राजेश जायसवाल (28) आरडीए कॉलोनी में नारियल पानी का ठेला लगाता है।

गुरुवार की रात करीब 9.30 बजे वह बोरियाखुर्द आरडीए कॉलोनी की ओर से अपनी बाइक से घर लौट रहा था। उसके घर से करीब 800 मीटर दूर बाइक सवार तीन युवकों ने उसे रोक लिया। इसके बाद उस पर पिस्टल तान दी और पैसों की मांग करने लगे। इससे उसने इनकार किया तो जबरदस्ती उसके जेब से पर्स निकाल लिया।

मोबाइल व अन्य सामान भी लूटने लगे। राजेश ने इसका विरोध किया। दोनों ओर से छीनाझपटी होने लगी। इतने में एक युवक ने राजेश पर फायरिंग कर दी। राजेश वहीं गिर पड़ा। अंधेरा होने के कारण आरोपियों पर किसी की नजर नहीं पड़ी। घटना की सूचना मिलते ही एसएसपी आरिफ शेख, एएसपी प्रफुल्ल ठाकुर व अन्य अधिकारी मौके पर पहुंच गए।

पंकज बोथरा की भी ऐसे ही की गई थी हत्या
करीब तीन साल पहले सराफा कारोबारी पंकज बोथरा की भी इसी पैटर्न पर हत्या हुई थी। उसे भी गोली मारकर लूटा गया। पंकज अपनी दुकान बंद करके संतोषी नगर की ओर से लौट रहे थे। इसी दौरान बाइक सवार लुटेरों ने उसे रोका और गोली मारकर जेवर से भरे बैग को लेकर फरार हो गए थे।

अस्पताल पहुंचने से पहले मौत
घटनास्थल पर काफी अंधेरा था। फायरिंग की आवाज सुनकर कुछ लोग मौके पर पहुंचे, तो राजेश बेसुध पड़ा था। उसकी सांसे चल रही थीं। इस बीच लोगों ने पुलिस को सूचना दी और उसे अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल पहुंचने से पहले ही राजेश की मौत हो चुकी थी।

इस हत्याकांड में रायपुर पुरानी बस्ती के सीएसपी कृष्णकुमार पटेल ने बताया कि नारियल कारोबारी की गोली लगने से मौत हो गई। पुलिस आरोपियों की तलाश में लगी है।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned