पढ़ई तुहर दुआर: जिन छात्रों के पास स्मार्ट मोबाइल नहीं उन्हें ऑडियो कंटेंट के माध्यम से शिक्षा दे रहा विभाग

- 967 से ज्यादा ऑडियो अपलोड हुए पोर्टल में।
- कमेटी द्वारा पास करने के बाद होते है सार्वजनिक।

By: Bhupesh Tripathi

Published: 24 Jul 2020, 02:54 PM IST

रायपुर। कोरोना संक्रमण काल में छात्रों का सिलेबस पूरा हो सके, इसलिए स्कूल शिक्षा विभाग ने पढ़ई तुहर दुआर पोर्टल के माध्यम से छात्रों की ऑनलाइन क्लास शुरू की। इस पोर्टल के माध्यम से कक्षा पहली से 12वीं तक के छात्रों को स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारी शिक्षित कर रहे है,और ऑनलाइन होमवर्क देकर सिलेबस पूरा करा रहे है।

जिन छात्रों के पास स्मार्ट फोन नहीं है, उन्होंने शिक्षकों के माध्यम से अधिकारियों को अपनी परेशानी बताई। छात्रों की समस्या को देखते हुए विभागीय अधिकारियों ने ऑडियो कंटेंट के माध्यम से छात्रों को पढ़ाने का नया तरीका निकाला है। छात्रों का सिलेबस ऑडियो कंटेंट में तैयार करके उन्हें पढ़ाया जा रहा है और उनकी समस्या का समाधान किया जा रहा है। ऑडियो कंटेंट विभाग के टोलफ्री नंबर पर फोन करके छात्र प्राप्त कर सकते है। विभागीय अधिकारियों के इस प्रयोग से छात्रों का अब पढ़ाई में मन भी लग रहा है।

लाउडस्पीकर से पढ़ाई
प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में जहां नेटवर्क की समस्या है। वहां पर छात्रों को शिक्षित करने के लिए विभागीय अधिकारियों ने रास्ता निकाला है। शिक्षकों की मदद से छात्रों को एक स्थान पर कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए इकट्ठा किया जा रहा है और उन्हें लाउडस्पीकर के माध्यम से शिक्षित किया जा रहा है। बस्तर समेत ग्रामीण इलाको में वर्तमान में इसी प्रक्रिया का पालन करके छात्रों का सिलेबस पूरा कराने का काम विभागीय अधिकारियों द्वारा किया जा रहा है।

967 ऑडियो अपलोड
स्कूल शिक्षा विभाग की वेबसाइट में ऑडियो कंटेंट अपलोड है। छात्र सीजी स्कूल डॉट इन वेबसाइट में जाकर भी इन्हें प्राप्त कर सकते है। विभाग की वेबसाइट में 967 ऑडियो अपलोड है। जिनमें से 787 को विभागीय अधिकारियों की कमेटी ने स्वीकृत किया है। एक ऑडियो कंटेंट 40 मिनट का है। इन्हें सब्जेक्ट वाइस तैयार किया गया है। छोटी कक्षाओं में विभागीय अधिकारियों का प्रयोग ज्यादा मददगार साबित हो रहा है। स्कूल शिक्षा विभाग की इस वेबसाइट में प्रदेश भर के 21 लाख 61 हजार 318 विद्यार्थियों ने अपना पंजीयन कराया है।

जिन छात्रों के पास स्मार्ट फोन नहीं है। उन्हें ऑडियों कंटेंट के माध्यम से पढ़ाया जा रहा है। ऑडियो कंटेंट क्लास वाइस और सब्जेक्ट वाइस तैयार किया जा रहा है। ग्रामीण इलाकों और छोटे क्लास के छात्रों को इन ऑडियों कंटेंट से पढ़ाने में काफी मदद मिल रही है। अब तक 967 वीडियो पढ़ई तुहद दुआर पोर्टल की वेबसाइट में अपलोड कर दिया गया है।
योगेश शिवहरे, संयुक्त संचालक, स्कूल शिक्षा विभाग

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned