छत्तीसगढ़ में बिजली कटौती को लेकर एक और कर्मचारी सस्पेंड, बाकियों को कड़े निर्देश

Anjalee Singh | Publish: Jun, 08 2019 03:32:56 PM (IST) | Updated: Jun, 08 2019 07:43:55 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

छत्तीसगढ़ के वाणिज्यकर (आबकारी) एवं उद्योग मंत्री (Exsice Minister) कवासी लखमा (Kawasi Lakhma) ने कांग्रेस के भवन में में जनसुनवाई की।

रायपुर. छत्तीसगढ़ के वाणिज्यकर (आबकारी) एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने कांग्रेस के भवन में में जनसुनवाई की। इस दौरान बिजली की समस्या पर सवाल वाणिज्यकर (आबकारी) एवं उद्योग मंत्री ने बताया कि महासमुंद के उद्योगपतियों ने बिजली नहीं मिलने की शिकायत की| इस संबंध में अफसरों को एक माह का समय दिया गया है। जबकि कोंडागांव में लाइनमैन की शिकायत मिलने पर उसे हटाने के निर्देश दिए गए हैं। कवासी लखमा जल्द ही विदेश दौरे पर भी जाने वाले है। क्योंकि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल उद्योग विकास पर भी काफी ध्यान दे रहे है।

कवासी लखमा एक विदेश दौरे पर भी जाने है। इस विदेश दौरे को लेकर मंत्री लखमा ने बताया कि वो बस्तर और सरगुजा में ऑटोमोबाइल उद्योग के लिए वहां के निवेशकों को छत्तीसगढ़ आमंत्रित करेंगे। जिससे छत्तीसगढ़ में उद्योग को नई दिशा मिलेगी। उन्होंने बताया कि वो विदेश यात्रा के बाद देश के अन्य राज्यों का दौरा भी करेंगे। छत्तीसगढ़ में नई उद्योग नीति सितंबर- नवंबर में आएगी।

kawasi lakhma

भूपेश बघेल को भी जाना था इस दौरे पर लेकिन
इस विदेश दौरे पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी जाने वाले थे, लेकिन उनका जाना फ़िलहाल रद्द हो गया है। गौरतलब है कि सीएम भूपेश बघेल आठ सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल के साथ आगामी 9 जून को कनाडा की एक सप्ताह की यात्रा पर जाने वाले थे । प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार उन्हें कनाडा के चार शहरों का दौरा करना था। जहां छत्तीसगढ़ में उद्योग के लिए विदेशी निवेशकों से बातचीत होनी थी।

भूपेश का पहला विदेश दौरा रद्द, उद्योग मंत्री लखमा और मुख्य सचिव जायेंगे कनाडा

शपथ ना पढ़ पाने वाला मंत्री अब विदेश दौरे पर
छत्तीसगढ़ में शपथ कार्यक्रम के दौरान कवासी लखमा ठीक तरह से शपथ भी नहीं पढ़ पाए थे। जिसके कारण उनकी काफी किरकिरी हुई थी। एक अनपढ़ व्यक्ति को उद्योग मंत्री बनाए जाने पर छत्तीसगढ़ में काफी चर्चाएं भी हुई। सोशल मीडिया इसके पक्ष -विपक्ष में कई पोस्ट भी किये गए।

कांग्रेस के इस विधायक को एक-एक शब्द पढ़कर दिलानी पड़ी मंत्री पद की शपथ, जानिए वजह

कवासी लखमा ने अपनी विधानसभा सीट से लगातार पांचवी बार जीत दर्ज कर कोंटा से सबसे अधिक बार जीत दर्ज करने वाले पहले प्रत्याशी हैं।लखमा 1998 से लगातार जीत दर्ज करते आ रहे हैं। कवासी लखमा एक आदिवासी नेता है जो छत्तीसगढ़ राज्य के कोंटा निर्वाचन क्षेत्र से 2008 में विधायक चुना गया था इससे पहले 2003 में एक बड़े अंतर (51.54% वोट हासिल करने वाले) के साथ चुने गए थे। 2018 के विधान सभा चुनाव में कवासी लखमा ने सीपीआई के मनीष कुंजाम को हराकर जीत हासिल की है।

वाणिज्यकर (आबकारी) एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा से जुडी खबरें पढ़े यहां

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download करें patrika Hindi News

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned