रायपुर में एक और नकली सेनेटाइजर फैक्ट्री का भंडाफोड़, 17 ड्रम में 1400 लीटर केमिकल बरामद

रायपुर पुलिस और ड्रग डिपार्टमेंट की संयुक्त टीम ने दलदल सिवनी में एक नकली सेनेटाइजर बनाने वाले रैकेट का भंडाफोड़ किया।

By: Ashish Gupta

Updated: 03 Apr 2020, 07:08 PM IST

रायपुर. कोरोना (Coronavirus) के खौफ के चलते बाजार में बढ़ती सैनिटाइजर और मास्क की बेहद कमी देखी जा रही है। ऐसे में कुछ लोग कालाबाजारी और मिलावट खोरी के फेर में लगे हुए हैं। इस पर कार्रवाई करते हुए रायपुर पुलिस और ड्रग डिपार्टमेंट की संयुक्त टीम ने दलदल सिवनी में एक नकली सेनेटाइजर (Fake hand sanitizer) बनाने वाले रैकेट का भंडाफोड़ किया। अफसरों ने यहां एक गोदाम में छापा मारकर 17 ड्रम में 1400 लीटर केमिकल बरामद किया है।

दरअसल, ड्रग विभाग को सूचना मिली थी कि दलदल सिवनी इलाके में स्थित एक गोदाम के अंदर नकली सेनेटाइजर बनाने में इस्तेमाल होने वाले केमिकल को बड़ी मात्रा में रखा गया है। ड्रग विभाग ने पुलिस के साथ जब गोदाम पर छापा मारा। वहां से टीम को 17 ड्रम में 1400 लीटर हैड्रोब्रोमिक केमिकल बरामद किया।

खबरों के अनुसार यह गोदाम मयूर सचदेव का है। पुलिस के मुताबिक मयूर सचदेव ने बताया कि नीलेश गुप्ता ने इस केमिकल को गोदाम में रखवाया था। बताया जा रहा है कि हैड्रोब्रोमिक केमिकल बहुत ही खतरनाक केमिकल होता है। इसका इस्तेमाल नकली सेनेटाइजर बनाने में होना था।

कोरोना की वजह से जहां एक तरफ सैनिटाइजर और मास्क की डिमांड बढ़ी है, तो वहीं दूसरी तरफ जमाखोरों और मिलावटखोरों पर नकेल कसने के लिए जिला प्रशासन और पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। बीते दिनों इसी इलाके के एक प्लांट में ड्रग डिपार्टमेंट के अफसरों ने छापा मारा था। यहां बिना लाइसेंस लिए ही सेनेटाइजर बनाने का काम चल रहा था।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned