scriptfarmers sitting on dharna | थाने में रात गुजारने के बाद सुबह फिर से धरने पर बैठे किसान | Patrika News

थाने में रात गुजारने के बाद सुबह फिर से धरने पर बैठे किसान

- किसानों का आरोप- तीन घंटे तक बस में बिठाकर अलग-अलग थानों में घुमाती रही पुलिस
- बांस-बल्ली व टेंट देने के बाद किसान थाने से हुए वापस

रायपुर

Published: June 19, 2022 11:08:30 am

दिनेश यदु @ रायपुर. अपनी मांगों के लेकर करीब 166 दिनों नवा रायपुर के किसान आंदोलन कर रहे हैं। शुक्रवार को प्रशासन ने कयाबांधा स्थित धरना स्थल पर लगे पंड़ाल पर जेसीबी चला दिया है, जिसके बाद धरना दे रहे किसान आक्रोशित होकर दोपहर 3 बजे एनआरडीए के कार्यालय ( NRDA Office) में घुसकर बैठ गए। थाेड़ी देर बाद मौके पर पहुंची पुलिस (police) ने एनआरडीए कार्यालय से किसान नेताओं (farmer leaders) खींचकर पुलिस वाहनों ( police vehicles ) में बिठा लिया। किसानों का आरोप है कि इसके बाद उन्हें एक थाने से दूसरे थाने घुमाते रहे। आखिर में किसानों को राखी थाना में लाकर घर जाने को कहा गया, लेकिन किसान नेता नहीं माने और रातभर थाने में रहे। सुबह 7 बजे वापस आकर कयाबांधा में धरना शुरू कर दिया।
नई राजधानी प्रभावित किसान कल्याण समिति (New Capital Affected Farmers Welfare Committee) महासचिव कामता रात्रे ने बताया कि हम लोग शांतिपूर्ण तरीके से कयाबंधा में आंदोलन कर रहे थे। पुलिस ने बेवजह हमारे पंडाल को उखाड़कर हमारे आंदोलन को कुचलने का प्रयास किया। पंडाल को तोडऩे से भी जी नहीं भरा तो हमारे नेता व 200-250 किसानों को तीन बसों में बिठाकर माना, मंदिर हसौद, आरंग, अभनपुर और राखी थाने घुमाते रहे। तीन घंटे घुमाने के बाद सभी को राखी थाने (Rakhi police station) में लाकर घर जाने को कहा गया, लेकिन हम बांस, बल्ली व पंडाल के बिना नहीं जाएंगे कहकर रातभर राखी थाना में रहे। तब सुबह हमारा सामान वापस मिला है। पुलिस ने हमारे पंडाल को अवैध बताया और जेसीबी चलाकर तोड़ दिया। वहां का सामान भी उठाकर ले गए।
यह भी पढ़ें - सेब को टक्कर दे रहा जामुन
यह भी पढ़ें - धरना स्थल में 500 की अनुमति, पहुंच गए हजारों आंगनबाड़ी
यह भी पढ़ें - नेट पैक नहीं मिलने पर पोषण ट्रेकर ऐप का उपयोग नहीं करने की चेतावनी
यह भी पढ़ें - नंदनवन से शेर-भालू गायब हुए तो पर्यटकों ने भी मुंह मोड़ा, 3 साल में 40 हजार पर्यटक घटे
यह भी पढ़ें - जनता के पैसों की बर्बादी: तीन साल में ही ढह गया मोतीबाग का साइकिल ट्रैक
थाने में रात गुजारने के बाद सुबह फिर से धरने पर बैठे किसान
थाने में रात गुजारने के बाद सुबह फिर से धरने पर बैठे किसान
थाने में रात गुजारने के बाद सुबह फिर से धरने पर बैठे किसान
IMAGE CREDIT: Dinesh Yadu @ Patrika Raipur
किसान कल्याण समिति के अध्यक्ष रूपन चंद्राकर ने बताया, लगातार हमारे आंदोलन को शासन-प्रशासन कुचलने का प्रयास कर रहा हैं। पहले भी 24 अप्रैल की सुबह प्रशासन ने पंडाल तोड़कर सामान जब्त कर लिया था। उसके बाद किसान कयाबांधा में आकर बैठ गए थे। हम लोगों ने प्रशासन से नुकसान का मुआवजा मांगा है। पुलिस अधिकारी 50 हजार रुपए देने की बात कह रहे हैं, लेकिन हमारा नुकसान कहीं ज्यादा का है। नवा रायपुर में किसान आंदोलन के पंडाल को तोड़े जाने की खबर से भारतीय किसान यूनियन भी इसमें कूद पड़ा है।
किसान नेता राकेश टिकैत (Farmer leader Rakesh Tikait) ने हरिद्वार से वीडियो संदेश जारी कर किसानों से कहा, वे फिर जाकर धरना स्थल पर बैठें। बरसात आ गया है, इसलिए ट्रेक्टर ट्राली में पंडाल बनाएं। अब यह छत्तीसगढ़ का नहीं पूरे भारत के किसानों का आंदोलन है। पूरा मुआवजा और समझौते के पालन किए बिना किसानों की जमीन नहीं लेने दी जाएगी। टिकैत ने कहा, उनकी लड़ाई केंद्र सरकार से भी है और छत्तीसगढ़ की सरकार से भी।
भारतीय किसान यूनियन के छत्तीसगढ़ प्रभारी प्रवीन श्योकंद ने कहा कि फिर छत्तीसगढ़ सरकार की तरफ से पुलिस बल का दुरुपयोग किया गया। किसानों के शांतिपूर्ण तरीके से चल रहे आंदोलन को कुचलने का प्रयास किया गया। दूसरी बार प्रशासन ने शासन के इशारे पर किसानों के पंडाल को तोड़ा। सरकार वार्ता करे और समाधान निकाले, लेकिन सरकार की मंशा ठीक नहीं है। अब अगर कोई परेशान करेगा तो सहा नहीं जाएगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मीन राशि में वक्री होंगे गुरु, इन राशियों पर धन वर्षा होने के रहेंगे आसारइन राशियों के लोग काफी जल्दी बनते हैं धनवान, मां लक्ष्मी रहती हैं इन पर मेहरबानभाग्यवान होती हैं इन नाम की लड़कियां, मां लक्ष्मी रहती हैं इन पर मेहरबानऊंची किस्मत वाली होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, करियर में खूब पाती हैं सफलताधन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीपनीर, चिकन और मटन से भी महंगी बिक रही प्रोटीन से भरपूर ये सब्जी, बढ़ाती है इम्यूनिटीweather update news..मौसम की भविष्यवाणी सटीक, कई जिलों में तूफानी हवा के साथ झमाझमस्कूल में 15 साल के लड़के से बनाए अननेचुरल संबंध, वीडियो भी बनाया

बड़ी खबरें

Udaipur Murder Case: पूरे देश में तनाव का माहौल, दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा- CM Ashok Gehlot, देखें Video...Udaipur : उदयपुर में आगजनी-पत्थरबाजी, इंटरनेट बंद, कर्फ्यू लगाया, पूरे राज्य में अलर्टUdaipur में नूपुर शर्मा के सपोर्ट में पोस्ट करने पर युवक की गला काटकर हत्या, सोशल मीडिया पर जारी किया वीडियोMaharashtra Political Crisis: देवेंद्र फडणवीस ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से की मुलाकात, जल्द से जल्द फ्लोर टेस्ट कराने की मांग कीदीपक हुडा ने टी-20 इंटरनेशनल करियर का लगाया पहला शतक, आयरलैंड के गेंदबाजों की उड़ाई धज्जियांPunjab: सीएम भगवंत मान का ऐलान, अग्निपथ के खिलाफ विधानसभा में लाएंगे प्रस्ताव, होगा किसान आंदोलन जैसा विरोध!Maharashtra Political Crisis: पुत्र और प्रवक्ता बालासाहेब के शिवसैनिकों को बोल रहे भैंस-कुत्ता, उद्धव ठाकरे की अपील का एकनाथ शिंदे ने दिया जवाबMaharashtra: ईडी ने शिवसेना नेता संजय राउत को फिर भेजा समन, जमीन घोटाले के मामले में 1 जुलाई को पेश होने के लिए कहा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.