दर्दनाक: चिकन रोस्ट नहीं बनाया तो बेटे को पटककर मारा और फेंक दिया सड़क पर

घटना की सूचना मिलने पर पुलिस ने पहले आसपास के लोगों से जानकारी हासिल की। फिर बच्चे के पिता जसवंत से कड़ाई से पूछताछ किया तो वह गोलमोल जवाब देने लगा। 

By: चंदू निर्मलकर

Updated: 18 Aug 2017, 09:49 AM IST

भिलाई. भिलाई-3 के गांव सोमनी में पत्नी ने चिकन रोस्ट बनाकर नहीं दिया तो नाराज पिता के अपने दो साल के मासूम बेटे को पटककर मार डालने का मामला सामने आया है। इस दर्दनाक घटना की सूचना मिलने पर पुलिस ने पहले आसपास के लोगों से जानकारी हासिल की। फिर बच्चे के पिता जसवंत से कड़ाई से पूछताछ किया तो वह गोलमोल जवाब देने लगा। संदेह होने पर पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। आगे की कार्रवाई के लिए पुलिस मासूम के पीएम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

ये था मामला
जसवंत पेशे से मिस्त्री है। बुधवार शाम उसने पत्नी डिलेश्वरी चौहान से 200 रुपए देकर चिकन रोस्ट बनाने के लिए कहा। पत्नी ने चिकन रोस्ट न बना कर तरी वाला चिकन बना दिया। इससे जसवंत इतना नाराज हुआ कि वह अपनी पत्नी से मारपीट करने लगा।

चिकन
नाराज होकर डिलेश्वरी अपनी बहन प्रीतम के साथ मायके ग्राम गनियारी चली गई लेकिन वह बच्चे गौरव को साथ नहीं ले गई। रात करीब 10 बजे जसवंत ने अपनी पत्नी को फोन किया। फोन नहीं उठाने पर जसवंत ने अपनी **** को पत्नी के नाम पर यह मैसेज किया कि गौरव अब तेरे लिए मर चुका है। गुरुवार सुबह मासूम गौरव का शव घर के बाहर सड़क पर पड़ा मिला।

पटक-पटक कर मारा

्रसोमनी के लोगों ने सड़क पर पड़ी मासूम की लाश को देखकर पुलिस को बताया कि पिता ने बड़ी बेरहमी से पटक-पटककर मारा होगा। मासूम के शरीर में जगह-जगह चोंट के निशान और खून के धब्बे स्पष्ट नजर आ रहे हैं। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मर्ग कायम कर लिया है। मासूम के शव को माच्र्युरी में रख दिया है। पीएम रिपोर्ट के बाद खुलासा होगा कि बच्चे को किस तरह से मारा गया है।

पहले लोगों ने सोचा दुर्घटना से मौत
सोमनी गांव के सड़क पर दो साल के मासूम का शव पड़ा देख पहले लोगों ने अंदाजा लगाया कि किसी वाहन की चपेट में आकर बच्चे की मौत हो गई होगी। लोग वाहन चालक को ढूंढने लगे। बाद में किसी ने जब झगड़े की बात कही तब जाकर लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। मासूम की मौत से पूरे गांव में सनसनी फैल गई है। बच्चे की प्रति क्रूरता को देख लोग दांतों तले उंगली दबा रहे हैं।

Show More
चंदू निर्मलकर Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned