फीस निर्धारण उपसमिति को 11 दिन में मिले 300 सुझाव, इसी माह के आखिरी तक होगा फीस पर निर्णय

अब तक समिति के पास कुल 300 सुझाव आए हैं। स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों के अनुसार मई माह के अंत तक प्राइेवट स्कूलों के लिए इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए जाएंगे। निर्देशों के बाद पालकों से मनमाना शुल्क वसूलने वाले निजी स्कूल प्रबंधकों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

By: Karunakant Chaubey

Published: 16 May 2020, 07:53 PM IST

रायपुर. शिक्षा सत्र 2020-21 में प्राइवेट स्कूलों में फीस वृद्धि पर राज्य सरकार द्वारा गठित की गई उपसमिति इसी माह अपना फैसला सुनाएगी, जिससे निजी स्कूलों की मनमानी रोकी जा सके। उपसमिति ने फीस वृद्धि की गाइडलाइन बनाने की तैयारी शुरू कर दी है। समिति प्रदेशभर से मिले सुझावों के आधार पर निर्णय करेगी। अब तक समिति के पास कुल ३०० सुझाव आए हैं। स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों के अनुसार मई माह के अंत तक प्राइेवट स्कूलों के लिए इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए जाएंगे। निर्देशों के बाद पालकों से मनमाना शुल्क वसूलने वाले निजी स्कूल प्रबंधकों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

प्रदेश भर से मिले सुझाव

राज्य सरकार की ओर से गठित उपसमिति की अशासकीय/निजी शालाओं की फीस विनियमन पर चर्चा करने के लिए ४ मई को अध्यक्ष डॉ. प्रेमसाय सिंह की अध्यक्षता में बैठक बुलाई गई थी, जिसमें समिति के सदस्यों ने प्रदेशभर से सुझाव मंगाने का निर्णय लिया था। विभागीय अधिकारियों के अनुसार 11 दिन में 300 सुझाव समिति के पास पहुंचे हैं। इन सुझावों को उपसमिति के सामने लोक शिक्षक संचालनालय के संचालक और उपसंचालक एके. बंजारा को पेश करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है, जिसके आधार पर फीस वृद्धि पर निर्णय लिया जाएगा। बैठक में उपसमिति के सदस्य गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे सहित स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला, संचालक लोक शिक्षण जितेन्द्र शुक्ला उपस्थित थे।

जिले में 853 निजी स्कूल

रायपुर जिले मे कुल 853 निजी स्कूल है। इन स्कूलों में फीस, ड्रेस, स्पोट्र्स आयोजन, बुक्स, पिकनिक, एडवेंचर्स स्पोट्र्स के नाम पर पालकों से अलग-अलग तरीके से उगाही की जाती है। निजी स्कूल प्रबंधकों द्वारा पालकों को परेशान ना किया जाए, इसलिए राज्य सरकार ने उपसमिति का गठन किया है।

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned