विदेश से लौटकर छिपे लोगों को ढूंढकर भेजा क्वारंटाइन सेंटर

अब तक सभी की रिपोर्ट निगेटिव

By: AJAY SINGH

Published: 22 Mar 2020, 12:54 AM IST


धमतरी. कोरोना वायरस के भय से विदेश से आने वाले 7 और नए लोगों को कोरेनटाइन सेंटर में रखा गया है। सीएमओ के अनुसार धमतरी जिले में एक भी पॉजीटिव मरीज नहीं मिला है। संक्रमण की रोकथाम के लिए व्यापक उपाय किया गया है। ऐसी जानकारी मिली है कि कुछ लोग विदेश यात्रा कर धमतरी लौट आए हैं, लेकिन वे इसकी जानकारी नहीं दे रहे। पुलिस इनका पतासाजी कर रही है।
शनिवार को धमतरी जिले में फिर से 7 नए लोगों को कोरेनटाइन सेंटर में शिफ्ट किया गया है। ये लोग नेपाल से आए थे, इसे मिलाकर अब इस सेंटर में विदेश की सैर कर आने वालों की संख्या बढकऱ 19 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक कोरेनटाइन वार्ड में नेपाल से आने वाले 7, बाली इंडोनेशिया से 6, थाईलैंड से 2, दुबई से 1, मलेशिया से 1 तथा रूस से आए 1 व्यक्ति को डाक्टरों की कड़ी निगरानी के बीच रखा गया है। सीएमओ डा. डीके तुर्रे ने बताया कि जिन लोगों को कोरेनटाइन सेंटर में रखा गया हैं, उनमें से एक-दो लोगों की निगरानी अवधि पूरा होने पर रविवार को वापस घर भी भेज दिया जाएगा। पुलिस को सूचना मिली थी कि शहर के दो डॉक्टर विदेश यात्रा कर लौटे है।
पुलिस ने उनके घरों में दबिश दी और पूछताछ किया। उधर, शहर में बाहर से आने वाले यात्रियों की भी जांच-पड़ताल की जा रही है। शनिवार को बस स्टैंड में रांची तथा मुंबई से आने वाले तीन लोगों की जांच कराई गई। इसी तरह पुलिस ने मराठापारा में महाराष्ट्र से आई एक महिला को ढंूढकर उसकी जांच कराया। जम्मू कश्मीर में वैष्णवदेवी का दर्शन कर लौटे कुछ लोग स्वयं जांच कराने के लिए पहुंच गए। इन सभी की रिपोर्ट निगेटिव है।

इधर , मुंबई से लौटे दो युवकों को होम आइसोलेशन में रहने की सलाह
कांकेर. कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए जिला अस्पताल पूरी तरह से अलर्ट हो गई है, मरीजों की भी गंभीरता से जांच कर रहे हैं। वहीं महानगरों से आने वाले यात्रियों पर भी नजर बनाई हुई है। शनिवार को मुुंबई से आने वाले दो लोगों की जांच जिला अस्पताल में की गई। उन्हे होम आइशोलेशन में रहने की सलाह दी गई है।

AJAY SINGH
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned