रायपुर से लगे इस गांव में पहली बार किसी ने मैरिट में बनाया स्थान

बिना ट्यूशन के दसवीं में लाए 98.33 परसेंट

By: Tabir Hussain

Published: 23 Jun 2020, 10:26 PM IST

ताबीर हुसैन @ रायपुर. राजधानी से लगे गांव सिवनी के वीरेंद्र तारक ने दसवीं की प्रावीण्य सूची में पांचवां स्थान हासिल किया है। इन्हें मैथ्स और साइंस में 100/100 अंक प्राप्त हुए हैं। पिता लकेश्वर तारक पंचायत सेक्रेटरी हैं। माता भुनेश्वरी तारक हाउसवाइफ। इस उपलब्धि पर वीरेंद्र कहते हैं, मैं रोज सुबह 4 बजे उठकर पढ़ाई करता था। प्रतिदिन 7 से 8 घण्टे पढ़ता था। मैं साइंस लेकर पढ़ूंगा। मुझे इंजीनियरिंग करना है। लिखकर याद करने की वजह से मेरे माक्र्स अच्छे आए।गांव की आबादी करीब 4 हजार है। रिजल्ट घोषित होते ही मीडिया के जरिए गांव में ये खबर आग की तरह फैल गई। लोगों को ताज्जुब हो रहा था कि अपना वीरेंद्र गांव को पूरे छत्तीसगढ़ में पहचान दिला देगा। ग्रामीण वीरेंद्र को बधाई देने घर आने लगे। वीरेंद्र के पिता लकेश्वर कहते हैं, मेरा बेटा पढ़ाई में तेज तो है लेकिन हम खुद आश्चर्य में हैं कि टॉप-5 में इसने जगह बना ली।

पीएससी फाइट करेगी आएशा

माता सुंदरी पब्लिक स्कूल में कॉमर्स से बारहवीं करने वाली आएशा अंजुम मैरिट में सातवें स्थान पर है। नूरानी चौक निवासी आएशा पीएससी फाइट कर अपनी स्ट्रीम में अफसर बनना चाहती हैं। उन्हें अकाउंट और बिजनेस स्टडी में 100/100 माक्र्स मिले हैं। बिना किसी टयूशन के यह उपलब्धि हासिल करने वाली आएशा के पिता मोहम्मद रफीक गवर्नमेंट जॉब में हैं, मम्मी फरीदा हाउसवाइफ।सोचा नहीं था टॉप 10 में आऊंगीआएशा ने कहा कि 90 प्लस माक्र्स लाने की उम्मीद थी लेकिन 95.60 परसेंट का सोचा नहीं था। मैंने रोजाना 6 से 8 घण्टे का वक्त दिया। कुकिंग और गेम में रुचि है। बॉलीवुड में शाहिद कपूर और सिंगर में आतिफ असलम फेवरेट हैं।

रायपुर से लगे इस गांव में पहली बार किसी ने मैरिट में बनाया स्थान

आईएएस बनना है प्रतिभा का सपना

दसवीं मैरिट में पांचवां स्थान बनाने वाली अभनपुर निवासी प्रतिभा सिखारिया राजधानी के संत ज्ञानेश्वर हायर सेकंडरी स्कूल में पढ़ रही है। वे कहती हैं, मैंने कभी सोचा नहीं था कि टॉप-5 में आ जाऊंगी। मैं आगे चलकर आईएएस बनना चाहती हूं। क्योंकि मैथ्स में रुचि है इसलिए आगे वही लेकर पढूंगी। प्रतिभा का के पापा बसंत कुमार सिखारिया कृषि विस्तार अधिकारी हैं जबकि मम्मी हाउसवाइफ। प्रतिभा को शायरी लिखना और पेंटिंग करना पसंद है। घर में कई पुरस्कार हैं जो इन विधाओं में जीते हैं। प्रतिभा ने बताया कि मैं बोल-बोलकर पढ़ती हूं।

रायपुर से लगे इस गांव में पहली बार किसी ने मैरिट में बनाया स्थान
Tabir Hussain Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned