स्वास्थ्य शिविर में आधुनिक और पारंपरिक चिकित्सा का संगम, लाभ लेने उमड़ी भीड़

Ashish Gupta

Publish: Jan, 14 2018 01:40:42 PM (IST)

Raipur, Chhattisgarh, India

रायपुर . राजधानी रायपुर के आयुर्वेदिक कॉलेज परिसर में चल रहे पांच दिवसीय नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर के तीसरे दिन रविवार को इलाज कराने के लिए लोगों की भारी भीड़ देखी गई। शिविर में बाम्बे हॉस्पिटल मुम्बई के प्रख्यात आर्थो सर्जन डॉ. एचआर झुनझुनवाला, कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. रितेश अग्रवाल, स्पाईन विशेषज्ञ डॉ. अरविंद कुलकर्णी, मेडिसिन विशेषज्ञ डॉ. सुजाता मेहता, हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. अनिल शर्मा, किडनी विशेषज्ञ डॉ. अशोक कृपालानी, डॉ. दिलीप कृपलानी ने लगभग 100 से अधिक मरीजों का नि:शुल्क जांच कर परामर्श दिया।

आधुनिक तकनीक एवं मशीनों से जांच के साथ-साथ नाड़ी वैद्य, आयुर्वेद, होम्योपैथी और प्राकृतिक चिकित्सा वैद्य, ज्योतिषी एवं योगा विशेषज्ञ भी नि:शुल्क सेवाएं दे रहें हैं। शनिवार को नेत्र विभाग में 5000 लोगों को चश्मा वितरण किया गया। वहीं 500 नेत्र रोगियों के गंभीर बीमारियों की जांच की गई। 200 मरीज नाक-कान-गला से संबंधित बीमारियों का उपचार कराए। 300 शिशुरोग एवं 251 स्त्री रोग से संबंधित जांच की गई।

300 से अधिक मरीजों का एक्स-रे, 200 सोनोग्राफी, 300 ईसीजी, 350 डिजिटल एक्स-रे, 98 जयपुर पैर का वितरण, 155 मरीजों की इको जांच, 4 हजार 271 से अधिक पैथोलॉजी जांच, 170 श्रवण यंत्रों का वितरण, 10 कैलीपर्थ वितरण, 3 बैटरी चलित ट्राई साइकिल, 1200 से अधिक दंत्त रोगों की जांच के साथ-साथ लगभग 8000 से अधिक मरीजों को नि:शुल्क दवाईयों का वितरण किया गया।

20 हजार मरीजों ने कराया पंजीयन
शनिवार देर शाम तक शिविर में विभिन्न बीमारियों की जांच व उपचार के लिए 20000 से अधिक मरीजों ने पंजीयन कराया है। शिविर के संयोजक एवं संरक्षक राजेश मूणत ने कहा कि ऐसे शिविर का आयोजन करते हुए निश्चित रूप से आत्मीय शांति एवं सुकून का एहसास होता है।

देहदान के लिए एक ने किया संपर्क
शिविर की विशेषता को देखते हुए बी-8, फेस-1, गोल्डन आर्केड, महोबा बाजार, कोटा , रायपुर निवासी विमल कुमार देवांगन पिता मदनलाल देवांगन (56) ने देहदान के लिए संपर्क किया।

Ad Block is Banned