scriptFlu vaccine helps decrease the risk of Coronavirus in children | Corona Update: बच्चों का कोरोना वैक्सीन दूर, फ्लू का टीका बना कवच | Patrika News

Corona Update: बच्चों का कोरोना वैक्सीन दूर, फ्लू का टीका बना कवच

Corona Update: बच्चों को लगने वाली कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) का इंतजार बढ़ता जा रहा है। तो वहीं दूसरी तरफ कोरोना वायरस (Coronavirus) नियंत्रित तो है मगर खतरा बना ही हुआ है।

रायपुर

Updated: November 08, 2021 06:50:13 pm

रायपुर. Corona Update: बच्चों को लगने वाली कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) का इंतजार बढ़ता जा रहा है। तो वहीं दूसरी तरफ कोरोना वायरस (Coronavirus) नियंत्रित तो है मगर खतरा बना ही हुआ है। ऐसे में अभिभावक चिंतित हैं, क्योंकि कोरोना की तीसरी लहर (Third wave of Coronavirus) बच्चों को प्रभावित कर सकती है। खतरा इन्हें अधिक हैं। यही वजह है जब तक कोरोना वैक्सीन नहीं आ जाती, तब तक अन्य बीमारियों से बचाव के लिए अभिभावक बच्चों को सुरक्षा कवच के रूप में फ्लू की वैक्सीन लगवा रहे हैं। राज्य में फ्लू की वैक्सीन की खपत महीने में 50 हजार वॉयल तक जा पहुंची है।
Private hospitals charge to Rs 250 per dose of corona vaccine
Corona Update: बच्चों का कोरोना वैक्सीन दूर, फ्लू का टीका बना कवच
'पत्रिका' ने कुछ अभिभावकों से संपर्क किया। इनका मानना है कि स्कूल खुलने शुरू हो गए हैं। मॉल, धार्मिक स्थल और उद्यान खुल चुके हैं। लोगों की आवाजाही भी तेजी से बढ़ी है। ऐसे में बच्चों को सुरक्षित रखना जरूरी है। बच्चों में साधारण सर्दी, खांसी, जुखाम के बढ़ते केस को देखते हुए हमारे पास फ्लू की वैक्सीन ही एकमात्र विकल्प है।
उधर, डॉक्टर भी इसे प्रिस्काइब कर रहे हैं। साल में एक बार जरूर वैक्सीन लगाने का सुझाव भी दे रहे हैं। अब तो निजी अस्पताल अपने फाइलों में रूटीन वैक्सीनेशन में फ्लू वैक्सीन को भी शामिल कर चुके हैं। गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने अभी जायडस कंपनी की वैक्सीन को अनुमति नहीं दी है। इधर, राज्य में कंपनी द्वारा 5 अधिकारियों को बिना सुई वाली वैक्सीन को लेकर प्रशिक्षण दिलवाया जा चुका है।
यह भी पढ़ें: CG Corona Update: 22 जिलों में कोरोना का एक भी नया मरीज नहीं मिला, जानिए क्या है ताजा आकड़े

इन जिलों में सबसे ज्यादा मांग- प्रमुख रूप से रायपुर, दुर्ग, बिलासपुर, रायगढ़, कोरबा में फ्लू की वैक्सीन की मांग अधिक है। क्योंकि संक्रमण भी इन्हीं शहरों में सबसे ज्यादा फैला था और अभी भी मरीज मिल रहे हैं। और अन्य शहरी क्षेत्रों में। डॉक्टर इसकी वजह जागरुकता मान रहे हैं।
कोरोना काल में ही बढ़ी मांग
रायपुर के एक थोक दवा विक्रेता ने बताया कि कोरोना काल में फ्लू की वैक्सीन की मांग सबसे ज्यादा देखने को मिली है, जबकि इसके पहले से वैक्सीन बाजार में है। बाजार में फ्लू की एक वैक्सीन 1500 से 2000 रुपए में उपलब्ध है। इनके मुताबिक साल में 2 बार इसकी मांग आती है।
फ्लू का वैक्सीन इन बीमारियों में देता है प्रोटेक्शन
फ्लू की वैक्सीन से निमोनिया, स्वाइन फ्लू (एन1एच1), इंफ्लूएंजा और बच्चों को होने वाली साधारण से बचाती है। छत्तीसगढ़ कमेस्टि एवं ड्रगिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष अविनाश अग्रवाल का कहना है कि कोरोना महामारी के चलते लोगों में काफी जागरूकता आई है। डॉक्टर भी फ्लू की वैक्सीन को प्रिस्क्राइब कर रहे हैं।
यह भी पढ़ें: लापरवाही पड़ सकती है भारी: अब ग्रामीण क्षेत्रों में पैर पसार रहा डेंगू, जानें लक्षण और बचाव

वरिष्ठ शिशुरोग विशेषज्ञ डॉ. प्रशांत केडिया ने कहा, फ्लू की वैक्सीन से कोरोना का प्रोटेक्शन नहीं मिलता। हां, कोरोना और फ्लू के लक्षण एक जैसे ही होते हैं। अगर, बच्चे को फ्लू की वैक्सीन लगी है तो और उसे किसी भी प्रकार के लक्षण हैं तो डायग्नोस करने में आसानी होती है। ओवर डायग्नोस से बचा जा सकता है। निश्चित तौर पर साल में एक बार फ्लू का वैक्सीन लगाना चाहिए, इससे सीजनल फ्लू से बचाव होगा। अभिभावक भी आकर कहते हैं, फ्लू वैक्सीन लगवानी है।
स्वास्थ्य विभाग के राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. वीआर भगत ने कहा, बच्चों की कोरोना वैक्सीन को लेकर अभी तक गाइडलाइन जारी नहीं हुई है। इंतजार करना होगा। कोरोना वायरस भी एक प्रकार फ्लू है। कुछ वेरिएंट में फ्लू की वैक्सीन कारगर होती है। मगर, पूरा सुरक्षा नहीं देती है। यह अच्छे संकेत हैं कि अभिभावक पहले से ज्यादा जागरूक हुए हैं।
इन बातों का जरूर ध्यान रखें
1- फ्लू की वैक्सीन कोरोना से बचाव नहीं करती।
2- फ्लू और कोरोना के लक्षण एक जैसे ही होते हैं, इसलिए अतिरिक्त सावधानी बरतें।
3- डॉक्टरों की सलाह पर ही वैक्सीन लगवाएं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.