फूड लाइसेंस बनना डेढ़ माह से बंद, बिना लाइसेंस के बिक रहे खाद्य पदार्थ

प्रदेश भर में बीते 37 दिनों से फूड लाइसेंस नहीं बन रहे हैं। 1 नवंबर से फूड लाइसेंस के लिए वेबसाइट को अपडेट कर दिया गया है। फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया की आनलाइन फूड लाइसेंस रजिस्ट्रेशन के लिए वेबसाइट अपडेट हो गई है। इसके बाद से ही राजधानी में आनलाइन फूड लाइसेंस ओके नहीं किया जा रहा है।

By: Karunakant Chaubey

Published: 22 Nov 2020, 03:05 PM IST

रायपुर. राजधानी समेत प्रदेश भर में फूड लाइसेंस आवेदन करने के बाद भी एप्रूवल अधिकारियों द्वारा नहीं किया जा रहा है। जबकि खाद्य नियामक एफएसएसएआई ने फूड बिजनेस ऑपरेटर को लाइसेंस जारी करने और उनके पंजीकरण के लिए एक नया ऑनलाइन प्लेटफॉर्म शुरू किया है। जिसके माध्यम से रजिस्ट्रेशन कराने पर अभिहित अधिकारी को दो दिन में एप्रूवल देने के लिए कहा गया है। इसके बाद भी बीते एक माह से लाइसेंस को एप्रूवल नहीं दिया जा रहा है।

प्रदेश भर में बीते 37 दिनों से फूड लाइसेंस नहीं बन रहे हैं। 1 नवंबर से फूड लाइसेंस के लिए वेबसाइट को अपडेट कर दिया गया है। फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया की आनलाइन फूड लाइसेंस रजिस्ट्रेशन के लिए वेबसाइट अपडेट हो गई है। इसके बाद से ही राजधानी में आनलाइन फूड लाइसेंस ओके नहीं किया जा रहा है।

दिवाली से पहले किए गए आवेदनों को नहीं मिला एप्रूवल

अब सभी तरह के खाद्य पदार्थ बेचने व बनाने वालों को फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया में रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी है। दिवाली के पहले किए गए तकरीबन दो हजार से ज्यादा आवेदनों को एप्रूवल नहीं दिया जा रहा है। जिससे बिना लाइसेंस की लोग खाद्य पदार्थ बनाने और बेचने को मजबूर हैं।

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned