रायपुर: दैहिक शोषण मामले में वन विभाग का स्टेनो हुआ गिरफ्तार

- पीड़िता ने इस घटना की सूचना अपनी माँ को दी जिसके बाद पीड़ित पक्ष ने माना थाना में अपराध पंजीबद्ध कराया। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी के खिलाफ पुलिस आईपीसी को धारा 354 और पास्को एक्ट धारा 8 के तहत कानूनी कार्रवाई की और आरोपी को जेल भेजा गया।

By: Bhupesh Tripathi

Published: 22 Nov 2020, 09:21 PM IST

रायपुर। राजधानी के माना थाना क्षेत्र अंतर्गत एक दैहिक शोषण का मामला सामने आया जिसमें पुलिस ने वन विभाग के स्टेनों अधिकारी जागेश्वर लहरे को गिरफ्तार किया है। ये मामला 19 नवंबर का है। पीड़िता ने इस घटना की सूचना अपनी माँ को दी जिसके बाद पीड़ित पक्ष ने माना थाना में अपराध पंजीबद्ध कराया।

जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी के खिलाफ पुलिस आईपीसी को धारा 354 और पास्को एक्ट धारा 8 के तहत कानूनी कार्रवाई की और आरोपी को जेल भेजा गया।

जानकारी के मुताबिक दिनांक 19.11.2020 को माना बस्ती में प्रार्थिया द्वारा अपनी 13 साल की बच्ची को फारेस्ट विभाग में पदस्थ जागेश्वर लहरे के द्वारा बेईज्जत करने की नियत से छेड़छाड़ करने की लिखित शिकायत पर शनिवार को करने पर थाना माना कैम्प में अपराध कमांक 171/2020 धारा 354 भादवि 8 पॉक्सो एक्ट कायम कर विवेचना में लिया गया।

महिला सम्बन्धी अपराध की गंभीरता को देखते हुए एसएसपी अजय यादव के निर्देशानुसार अति० पुलिस अधीक्षक तारकेश्वर पटेल एंव नगर पुलिस अधीक्षक लालचन्द मोहले के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी गाना दुर्गेश रावटे ने आरोपी जागेश्वर लहरे को फारेरट कॉलोनी माना बस्ती रायपुर से गिरफ्तार किया है।

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned