नेता प्रतिपक्ष की दौड़ में रमन सिंह सबसे आगे, दिल्ली के पर्यवेक्षक तय करेंगे नाम

नेता प्रतिपक्ष की दौड़ में रमन सिंह सबसे आगे, दिल्ली के पर्यवेक्षक तय करेंगे नाम

Chandu Nirmalkar | Updated: 20 Dec 2018, 09:06:34 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

भाजपा नेता प्रतिपक्ष के चयन के लिए जल्दबाजी करने की जगह फूंक-फूंककर कदम रख रही है।

रायपुर. छत्तीसगढ़ में सत्तारूढ़ कांग्रेस जहां मंत्रिमंडल गठन के लिए मंथन कर रही है, वहीं 15 साल तक सत्ता का स्वाद चखने वाली भाजपा में अब नेता प्रतिपक्ष के लिए दौड़ शुरू हो गई है। भाजपा के नवनिर्वाचित 15 विधायकों में से एक-तिहाई से ज्यादा विधायक नेता प्रतिपक्ष की दौड़ में हैं। इससे पार्टी की मुश्किल बढ़ती दिखाई दे रही है। यही वजह है कि पार्टी ने नेता प्रतिपक्ष के चयन का जिम्मा केंद्रीय नेतृत्त्व पर छोड़ दिया है। अब केंद्रीय नेतृत्त्व की ओर से तय पर्यवेक्षक ही प्रदेश में नेता प्रतिपक्ष का चुनाव करेंगे। इससे पहले प्रदेश भाजपा एक नाम पर सहमति बनाने के लिए विधायक दल की बैठक बुलाने की तैयारी में है।

नेता प्रतिपक्ष की दौड़ में शामिल नेताओं की लॉबिंग शुरू कर दी है। प्रबल दावेदारों के रूम में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का नाम भी सामने आ रहा है, लेकिन जानकारों का कहना है कि आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर केंद्रीय नेतृत्त्व इन्हें अलग जिम्मेदारी दे सकता है। इस स्थिति में रायपुर संभाग से तीन बड़े नाम सामने आ रहे हैं। इसमें सातवीं बार चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे बृजमोहन अग्रवाल, पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर और शिवरतन शर्मा शामिल हैं। वहीं बिलासपुर संभाग की बात करें, तो प्रदेश भाजपा अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, पूर्व गृहमंत्री ननकीराम कंवर और डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी रेस में आगे बताए जा रहे हैं। माना जा रहा है कि भाजपा विपक्ष में सशक्त भूमिका निभाने के लिए अपने अनुभवी नेता पर ही दावं खेलेगी।

शुरू हो गई दिल्ली की दौड़

नेता प्रतिपक्ष बनाने के लिए उठापटक का दौर शुरू हो गया है। इसके लिए नेता दिल्ली जाकर वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात कर एक तरह से अपनी दावेदारी पेश करने में लगे हैं। बताया जाता है कि एक पूर्व मंत्री लगातार दिल्ली का दौरा कर रहे हैं। मध्यप्रदेश के नेताओं से भी उनका सतत् संपर्क है। इसके अलावा अन्य दो नेता भी दिल्ली में जाकर अपना नम्बर बढ़ाने में लगे हैं।

शीतकालीन सत्र से पहले होगी घोषणा

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने बताया कि विधानसभा का सत्र शुरू होने से पहले नेता प्रतिपक्ष का चयन कर लिया जाएगा। बता दें कि इस बार विधानसभा का शीतकालीन सत्र जनवरी में संभावित है। यही वजह है कि भाजपा नेता प्रतिपक्ष के चयन के लिए जल्दबाजी करने की जगह फूंक-फूंककर कदम रख रही है।


नेता प्रतिपक्ष के चयन के लिए दिल्ली से पर्यवेक्षक आएंगे। उससे पहले विधायक दल की बैठक बुलाई जाएगी। इसमें नेता प्रतिपक्ष के नामों की चर्चा होगी।

धरमलाल कौशिक, प्रदेशाध्यक्ष, भाजपा

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned