पूर्व सांसद देवव्रत सिंह ने फिर किया कांग्रेस पर हमला, कहा - पार्टी में लोकतांत्रिक ढांचा ध्वस्त

Ashish Gupta

Publish: Jan, 14 2018 02:52:21 (IST) | Updated: Jan, 14 2018 03:00:23 (IST)

Raipur, Chhattisgarh, India

रायपुर . छत्तीसगढ़ में राजनादगांव के पूर्व सांसद देवव्रत सिंह ने कांग्रेस से नाता तोडऩे के बाद एक बार पार्टी पर हमला किया। देवव्रत ने कांग्रेस के राष्ट्रीय और प्रदेश नेतृत्व पर सवाल उठाते हुए दो टूक शब्दों में कहा कि अब कांग्रेस में उनके लिए कुछ नहीं बचा है।

रविवार को प्रेस क्लब में मीडिया से बातचीत करते हुए पूर्व सांसद देवव्रत ने प्रदेश कांग्रेस अपने मुद्दों से भटक गई है और किसी भी मामले में पार्टी निर्णायक लड़ाई नहीं लड़ पाई है। इसलिए जनता हमारे साथ खड़ी नहीं हो पाई।

उन्होंने प्रदेश के कई एेसे मुद्दे का जिक्र करते हुए कहा कि कांग्रेस प्रदेश सरकार को कटघरे में खड़े करने में विफल रही है। आगामी विधानसभा चुनाव से पहले जब तक कांग्रेस इन मुद्दों पर निर्णायक लड़ाई नहीं लड़ेगी तब तक कांग्रेस की सत्ता में वापसी नहीं हो सकती है।

केन्द्रीय नेतृत्व पर उठाए सवाल
देवव्रत सिंह ने कांग्रेस की केन्द्रीय नेतृत्व पर सवाल उठाते हुए कहा कि पार्टी का लोकतांत्रिक ढांचा ध्वस्त हो चुका है। उन्होंने यूथ कांग्रेस और एनएसयूआई के चुनावी प्रक्रिया पर भी सवाल उठाया। पूर्व सांसद ने कांग्रेस में वापसी की संभावनाओं को सिरे से खारिज करते हुए दो टूक शब्दों में कहा कि अब कांग्रेस में उनके लिए कुछ नहीं बचा है।

देवव्रत ने दो टूक कह दिया कि जिस कांग्रेस में उनके लिए कोई जगह नहीं बची है, वहां जाने का अब सवाल ही पैदा नहीं होता। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि वे किसी भी पार्टी में फिलहाल नहीं जा रहे हैं। पूर्व सांसद सिंह ने स्पष्ट किया वे क्षेत्र में अपनी सक्रियता बनाए रखेंगे और इलाके के दौरे भी करेंगे।

बतादें कि पूर्व सांसद देवव्रत सिंह ने कांग्रेस पार्टी में अपनी उपेक्षा का आरोप लगाते हुए पार्टी से त्यागपत्र दे दिया था। हालांकि उनका इस्तीफा अभी स्वीकार नहीं हुआ है, कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा देने के बाद देवव्रत सिंह को मनाने की कोशिशें स्थानीय स्तर पर चल रही हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned