32 नक्सलियों सहित चार इनामी ने किया आत्मसमर्पण

नक्सल विरोधी अभियान के तहत रविवार को बारसूर, आमदई घाटी, हांदावाड़ा क्षेत्र के अंतर्गत सक्रिय 4 इनामी नक्सलियों सहित 32 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया। इसमें ग्राम बाकेली से 19, उदेनार से 3, कोरकोट्टी से 4, तुमरीगुण्डा से 3, मटासी से 3 शामिल है।

By: bhemendra yadav

Updated: 25 Oct 2020, 11:05 PM IST

दंतेवाड़ा। नक्सली विरोधी अभियान और शासन की नीतियों से प्रभावित होकर 32 नक्सलियों सहित एक-एक लाख के चार इनामी नक्सलियों ने आज एसपी और एएसप के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। प्रोत्साहन के तौर पर इन सभी को 10-10 रुपये की राशि प्रदान की गई। सभी नक्सली बारसुर इलाके में सक्रिय थे।

जिले में चलाए जा रहे नक्सल विरोधी अभियान के तहत रविवार को बारसूर, आमदई घाटी, हांदावाड़ा क्षेत्र के अंतर्गत सक्रिय 4 इनामी नक्सलियों सहित 32 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया। इसमें ग्राम बाकेली से 19, उदेनार से 3, कोरकोट्टी से 4, तुमरीगुण्डा से 3, मटासी से 3 शामिल है। ये सभी लोन वर्राटू योजना से प्रभावित होकर एवं माओवादियों के खोखले विचारधारा से तंग आकर समाज के मुख्यधारा में जुडऩे का फैसला लेते हुए पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा डॉ. अभिषेक पल्लव, 195वीं वाहिनी सीआरपीएफ के कमांडेंड वी.पी. सिंह, आईसी सौरभ कुमार, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा यू उदय किरण (भापुसे) एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा राजेन्द्र जायसवाल के समक्ष थाना बारसूर जिला दक्षिण बस्तर दंतेवाड़ा में आत्मसर्पण किया।

छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास नीति के तहत आत्मसमर्पण पश्चात समाज के मुख्यधारा में जुडऩे के बाद आत्मसमर्पित माओवादियों को 10-10 हजार रुपए प्रोत्साहन राशि दी गई। आत्मसमर्पित नक्सली अतिसंवेदनशील ग्राम के निवासी हैं, नक्सली खतरे को देखते हुए गोपनीयता बनाये रखने के लिएनाम उजागर नहीं किए गए है।

bhemendra yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned