पुलिस लाइन में फिर फर्जी बिल लगाकर धोखाधड़ी, पांच ड्राइवर गिरफ्तार

आरोपियों ने इसमें इंडियन एयरफोर्स और एंटी नक्सल टॉस्क फोर्स के अधिकारियों के फर्जी हस्ताक्षर और सील लगाया था। और उनके भ्रमण में 1300 लीटर पेट्रोल-डीजल की खपत बताते हुए बिल लगाया था। जांच में फर्जीवाड़े का खुलासा होने के बाद पुलिस लाइन के एमटीओ शाखा ने कोताली थाने में ट्रेवल कंपनी की गाडि़यों के ड्राइवर के खिलाफ अपराध दर्ज कराया।

By: Karunakant Chaubey

Updated: 17 Jun 2020, 11:18 PM IST

रायपुर. एंटी नक्सल ऑपरेशन के अधिकारियों के फर्जी हस्ताक्षर और सील लगाकर पुलिस लाइन में फर्जी बिल पेश करने वाले पांच ड्राइवरों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसमें ट्रेवल एजेंसी के संचालक की भूमिका की भी जांच की जा रही है। पुलिस के मुताबिक चुनाव के लिए पुलिस लाइन से मां तारनी ट्रेवल्स के वाहनों का अधिग्रहण किया गया। इन वाहनों को लिए 1 लाख 13 हजार रुपए डीजल के लिए जारी किया गया था। इन वाहनों के ड्राइवरों ने 1300 लीटर फ्यूल खपत का बिल पुलिस लाइन में पेश किया।

बिल की जांच की गई, तो सभी फर्जी निकली। आरोपियों ने इसमें इंडियन एयरफोर्स और एंटी नक्सल टॉस्क फोर्स के अधिकारियों के फर्जी हस्ताक्षर और सील लगाया था। और उनके भ्रमण में 1300 लीटर पेट्रोल-डीजल की खपत बताते हुए बिल लगाया था। जांच में फर्जीवाड़े का खुलासा होने के बाद पुलिस लाइन के एमटीओ शाखा ने कोताली थाने में ट्रेवल कंपनी की गाडि़यों के ड्राइवर के खिलाफ अपराध दर्ज कराया।

पुलिस ने ड्राइवर राजकुमार राजपूत, खिलावन राम, दुलेंद्र साहू, कासिम अली और दुलेश देवांगन को गिरफ्तार कर लिया है। इसमें ट्रेवल एजेंसी के संचालक की भूमिका की भी जांच की जा रही है।

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned