हर मर्ज का इलाज तंत्र-मंत्र से करने का झांसा देकर ठगी करने वाला गिरोह बेनकाब, कथित माता सहित 6 गिरफ्तार

तंत्र-मंत्र के जरिए बीमारी और हर समस्या का समाधान करने का झांसा देकर ठगी करने वाले गिरोह का खुलासा हुआ है। पुलिस ने कथित माता सहित आधा दर्जन आरोपियों को धोखाधड़ी करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है।

By: Ashish Gupta

Published: 13 Sep 2021, 11:48 PM IST

रायपुर. तंत्र-मंत्र के जरिए बीमारी और हर समस्या का समाधान करने का झांसा देकर ठगी करने वाले गिरोह का खुलासा हुआ है। पुलिस ने कथित माता सहित आधा दर्जन आरोपियों को धोखाधड़ी करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने धरसींवा इलाके की एक नाबालिग का बुखार एक ही दिन में मंत्र पढ़कर ठीक करने का दावा किया था। इसके एवज में युवती के परिजनों से पैसे और चावल लिया था।

पुलिस के मुताबिक धरसींवा निवासी गजेंद्र सिंह की बेटी की तबीयत पिछले कुछ दिनों से खराब थी। उन्हें बार-बार बुखार आ रहा था। इससे वह काफी परेशान थे। इस बीच उनके घर में एक महिला पहुंची। उसने खुद को माता बताया। और गजेंद्र की पत्नी उमा को बताया कि उनकी बेटी की तबीयत तंत्रमंत्र के जरिए एक ही फूंक से ठीक हो जाएगी।

यह कहते हुए उसने मोबाइल नंबर ले लिया था। और चली गई। इसके बाद अगले दिन गजेंद्र के मोबाइल में कथित माता ने कॉल किया। और बताया कि अपनी बेटी की तबीयत ठीक करना चाहते हो, तो अभनपुर आना होगा। झाडफ़ूंक किया जाएगा। इसके एवज में 8 हजार रुपए और एक कट्टा चावल लगेगा। अगले दिन गजेंद्र अपनी बेटी को लेकर अभनपुर पहुंचे।

कार से पहुंचा सेवक
अभनपुर पहुंचकर गजेंद्र ने माता के नंबर में कॉल किया, तो गोर्वधन निषाद कार से पहुंचा। उन्हें अपने पीछे आने के लिए कहा। गजेंद्र उनके पीछे-पीछे अटल आवास पहुंचा। अटल आवास पहुंचने के बाद कथित माता सतीबाई और नगीना बाई एक कमरे में बैठी थीं। उन्होंने गजेंद्र को बताया कि पूजा-पाठ करना पड़ेगा। इसके लिए पैसे और चावल दो।

गजेंद्र ने 8 हजार नगद और एक कट्टा चावल उन्हें दे दिया। इसके कुछ नाबालिग के सामने कुछ देर तक दोनों माताएं आंख बंद करके मंत्र पढऩे लगीं। इसके बाद भी नाबालिग का बुखार ठीक नहीं हुआ। गजेंद्र ने आपत्ति की, तो कथित माताओं ने कहा कि झाडफ़ूंक कर दिया है। ठीक नहीं हो रहा है, तो हम कुछ नहीं कर सकते। इससे नाराज गजेंद्र ने अभनपुर थाने में शिकायत की।

शिकायत के आधार पर पुलिस ने दोनों माताओं सती बाई, नगीना और उनके बेटे जेके, अमीन गोड़, मनोज गोड़, गोर्वधन प्रसाद निषाद के खिलाफ धोखाधड़ी का अपराध दर्ज किया। इसके बाद सभी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned