जागरुकता की कमी, कहीं केवायसी के नाम पर झांसा, तो कहीं फर्जी भुगतान दिखाकर की ऑनलाइन ठगी

देवेंद्रनगर, कोतवाली, सेजबहार थाने में दर्ज हुआ मामला, अलग-अलग इलाकों में ऑनलाइन ठगी के तीन मामले

By: Nikesh Kumar Dewangan

Published: 09 Jan 2021, 06:49 PM IST

रायपुर. ऑनलाइन ठगी करने वाले कहीं केवायसी के नाम पर झांसा दे रहे हैं, तो कहीं खाते की जानकारी लेकर झांसा दे रहे हैं। शहर में तीन अलग-अलग स्थानों में ऑनलाइन ठगी हो गई। देवेंद्र नगर, कोतवाली और सेजबहार पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

पहला मामला कोतवाली इलाके का है। ओसीएम चौक निवासी मिसबा ढेबर के एसबीआई बैंक खाते से 10 दिसंबर को 6 हजार 298 रुपए, 16 दिसंबर को 7 हजार 717 रुपए और 9 हजार 915 रुपए, 18 दिसंबर को 7 हजार 680 रुपए और 12 हजार 279 रुपए किसी ने निकाल लिया। राशि निकलने का मैसेज भी नहीं मिला और न ही किसी तरह की ओटीपी आई। मिनी स्टेटमेंट निकालने पर इसका खुलासा हुआ। इसकी शिकायत पर कोतवाली पुलिस ने अज्ञात ठगों के खिलाफ अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।

फर्जी भुगतान का झांसा

पंडरी इलाके में चांदी के सिक्के खरीदने के बाद फर्जी भुगतान दिखाकर महिला कारोबारी को ठग लिया गया। इसकी शिकायत पर देवेंद्र नगर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर विवेचना में लिया है। पुलिस के मुताबिक पंडरी कपड़ा मार्केट में एमएम साड़ीज के भीतर कृतिका धाड़ीवाल की भद्र सिल्वर ज्वैलरी शॉप है। 24 दिसंबर को राजीव प्रभास गुप्ता चांदी के सिक्के खरीदने पहुंचा। उसने पांच चांदी के सिक्के खरीदे। और उसका भुगतान 30 हजार रुपए पॉस मशीन के जरिए करना चाहा, लेकिन भुगतान फेल हो गया। इसके बाद उसने एनईएफटी के जरिए ऑनलाइन भुगतान किया।

भुगतान की प्रक्रिया पूरी करने के बाद उसने भुगतान रसीद भी दिखाया। इसके बाद बिना बिल लिए वह चला गया। अगले दिन उसके द्वारा किया गया भुगतान कृतिका के खाते में नहीं आया। राजीव के मोबाइल में कॉल किया गया, तो नंबर बंद मिला। आरोपी ने फर्जी भुगतान रसीद दिखाकर सिक्का खरीद लिया और फरार हो गया।इसकी शिकायत पर देवेंद्र नगर पुलिस ने उसके खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर विवेचना में लिया है।

पश्चिम बंगाल के ठग

सत्यनारायण के बैंक खाते से 73 हजार 990 रुपए एयरटेल पेमेंटएप के जएि जिन तीन मोबाइल नंबरों में ट्रांसफर हुए हैं, वे तीनों नंबर पश्चिम बंगाल के जचीना बीबी, शेख छेकेम और जयचंद मंडल के नाम से रजिस्टर्ड हैं। और तीनों नंबर पश्चिम बंगाल के हैं। आशंका है कि तीनों ठग पश्चिम बंगाल के हैं।

पेटीएम की केवायसी के नाम पर ठगी

बिलासपुर निवासी सत्यनारायण मिश्रा अपने संबंधी के इलाज के लिए सेजबहार इलाके के एक निजी अस्पताल में आए थे। इस दौरान अज्ञात व्यक्ति ने उन्हें फोन किया और बताया कि उनके पेटीएम की केवायसी बंद हो गई है। इसे दोबारा अपडेट करना होगा। इसके लिए अपना एटीएम कार्ड का नंबर पूछा, तो उन्होंने कार्ड का नंबर बता दिया। कुछ देर बाद उनके मोबाइल में ओटीपी नंबर आया। आरोपी ने ओटीपी नंबर भी पूछा। ओटीपी नंबर भी उसने बता दिया। इसके कुछ देर बाद अलग-अलग किस्तों में उनके बैंक खाते से 73 हजार 990 रुपए का आहरण हो गया। सभी ट्रांजेक्शन एयरटेल पेमेंट एप के जरिए हुआ है।

Nikesh Kumar Dewangan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned