ऐप डाउनलोड कराकर सवा लाख की धोखाधड़ी

गूगल में सर्च करके निकाले मोबाइल नंबर

By: VIKAS MISHRA

Updated: 10 May 2020, 12:29 AM IST

रायपुर. ऑनलाइन ठगी करने वाले नए-नए तरीके से लोगों को ठग रहे हैं। पहले एटीएम अपडेट कराने के नाम पर ठगी करते थे, लेकिन अब गूगल में विभिन्न सेवाओं से जुड़े कंपनियों के मिलते-जुलती कंपनियां बनाकर लोगों को ठग रहे हैं। कुछ दिन पहले एक सराफा कारोबारी को वेब प्लेटफार्म रिचार्ज कराने के नाम पर ऑनलाइन ठग लिया था। उसी तरह खमतराई इलाके में एक व्यक्ति को फिर ठग लिया गया। आरोपी ने कोरियर कंपनी का सर्विस प्रोवाइडर बनकर पीडि़त व्यक्ति के खाते से सवा लाख रुपए से अधिक की राशि निकाल लिया। इसकी शिकायत पर पुलिस ने अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।
पुलिस के मुताबिक खमतराई के आरवीएच कॉलोनी निवासी जोहन पटेल गोदरेज कंपनी में सर्विस इंजीनियर है। 1 मई को वह अपने घर वीसी डिवाइस भेजने के लिए गूगल सर्च इंजन में कोरियर कंपनी की तलाश कर रहा था। इस दौरान उसे गूगल में तिरुपति कोरियर सर्विस फाफाडीह का पता चला। उसमें दिए गए मोबाइल नंबर में जोहन ने कॉल किया। कॉल करने के बाद दूसरी ओर से उसे बोला गया कि क्यूएस सपोर्ट ऐप मोबाइल में डाउनलोड करें। जोहन ने ऐप डाउनलोड कर लिया। इसके बाद उसे ऐप में दी गई जानकारी भरने के लिए कहा। इसके बाद उसके मोबाइल में एक कोड आया। कोरियर वाले ने उस कोड को ऐप में भरने के लिए कहा, जैसे ही जोहन ने कोड डाला। उसका मोबाइल बंद हो गया। इसके करीब आधे घंटे बाद उसके बैंक एकाउंट से यूपीआई के जरिए अलग-अलग किस्तों में 1 लाख 32 हजार 424 रुपए का आहरण हो गया। अज्ञात आरोपी ने कोरियर सर्विस कंपनी का कर्मचारी बनकर जोहन को ऑनलाइन ठग लिया। इसकी शिकायत पर खमतराई पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी का अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।

VIKAS MISHRA
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned