आज से कापी-किताब, बिजली के पंखे और मोबाइल रिचार्ज की दुकानें खुलेंगी, मगर शर्तें लागू

लॉकडाउन में राहत : आटा मिल, दाल मिल, ब्रेड बनाने वाली फैक्ट्री और दुग्ध प्रसंस्करण को भी छूट

आज से लागू हो जाएगी नई व्यवस्था

By: ramendra singh

Published: 23 Apr 2020, 12:47 AM IST

रायपुर. लॉकडाउन के बीच छत्तीसगढ़ के लोगों को राज्य सरकार ने बड़ी राहत दी है। अब प्रदेशभर में कापी-किताब, बिजली के पंखे और मोबाइल रिचार्ज की दुकानें खुल सकेंगी। इसके आम आदमी को प्रदेश में लगातार मिल रही गर्मी से राहत मिलेगी, बल्कि अभिभावकों के मन से बच्चों की पढ़ाई की चिंता भी बहुत हद तक दूर हो सकेगी। इसके अलावा आटा मिल, दाल बिल, बे्रड बनाने वाले फैक्ट्रियों और दुग्ध प्रसंस्करण को भी लॉकडाउन से मुक्त कर दिया है। हालांकि इन संस्थाओं के संचालन के लिए जिला प्रशासन अपने हिसाब से समय-सीमा तय की है। यानी इन सुविधाओं का लाभ दिनभर नहीं मिलेगा। यह व्यवस्था हॉटस्पॉट वाले कंटेनमेंट जोन में लागू नहीं होगी। प्रदेश में ऐसी स्थिति कोरबा जिले के कटघोरा में ही निर्मित हुई है। केंद्र की गाइडलाइन के मुताबिक सामान्य प्रशासन विभाग ने बुधवार को इस संबंध मे आदेश जारी कर दिया है। इसके हिसाब से जिलों में भी यह व्यवस्था गुरुवार से लागू हो जाएगी।

पौधरोपण रोपण व संवर्धन से जुड़े कामों को मंजूरी

जारी आदेश में वन विभाग से जुड़े कामों में भी राहत दी गई है। प्रदेश में अब पौधरोपण और उनके संवर्धन से जुड़े काम हो सकेंगे। इसके अलावा इनसे जुड़ी गतिविधियां भी जारी रहेंगी। वहीं बीज एवं उद्यानिकी उत्पादों के निरीक्षण और ट्रीटमेंट की सुविधाओं को छूट दी गई है।
शहद का होगा परिवहन

मधुमक्खी पालन के प्लाटिंग मटेरियल, मधुमक्खी कॉलोनी, शहद एवं अन्य सामग्रियों का परिवहन राज्य के अंदर और बाहर दोनों जगह हो सकेगा।

बिलासपुर में बुधवार व रविवार को लॉकडाउन
बिलासपुर जिले में बुधवार व रविवार को पूरा लॉकडाउन रहेगा। बाकी दिनों में यहां दोपहर 1 बजे तक दुकानें खुलेंगी। कोरबा जिला रेड जोन में होने के कारण यहां दोपहर 1 बजे तक की जरूरी दुकानें खुली रहेंगी। इसी प्रकार जांजगीर-चांपा जिले में शाम चार बजे तक, कोरिया में दोपहर 2 बजे तक, रायगढ़ में दोपहर 12 बजे, जशपुर में सुबह 10 बजे तक, अम्बिकापुर में रात 8 बजे तक, मुंगेली में दोपहर तीन बजे तक जरूरी दुकानें खुली रहेंगी।

रायपुर में दुकानों के खुलने और बंद होने का समय

प्लम्बर, इलेक्ट्रीशियन, मोटर मैकेनिक, आईटी रिपेयर (स्वयं काम करने वाले) करने वालों को पूरी सुरक्षा के साथ घर पहुंच कर सेवा देने की अनुमति दी गई है। नई सुविधाओं में पशुओं का हरा चारा, पालतू पशुओं की दुकानें और एक्वेरियम हाउस भी खोलने की अनुमति दी गई है।
सुबह 7 से दोपहर 1 बजे तक

सभी मंडियां, दुकान, फल, सब्जी, अनाज, चिकन, मटन व मछली, कृषि मशीनरी की दुकानें, खाद-उर्वरक, कीटनाशक, पशु चारा की दुकानें सुबह 7 बजे से दोपहर 1 बजे तक खुली रहेगी। डेलीनीड्स, किराना, आटा चक्की, मोबाइल रिचार्ज, चश्मा दुकान, वाटर केन, पनीर व दूध से बनी मिठाई की दुकानें भी सुबह 7 बजे से 1 बजे तक खुली रहेंगी।
सुबह 7 से दोपहर 2 बजे तक

टायर पंचर, बीमा कंपनियां और गैर वित्तीय संस्थाए, वाटर केन, सीमेंट व सरिया दुकाने, इलेक्ट्रॉनिक, प्लंबिंग की दुकानें, ऑटोमोबाइल, टायर एवं ऑटो पार्टस
सुबह 7 से दोपहर 1 बजे तक

ऑप्टिकल्स
सुबह 7 से दोपहर 4 बजे तक

प्लंबर, इलेक्ट्रीशियन, मोटर मैकेनिक, आईटी रिपेयर (स्वयं काम करने वाले), राशन दुकानें पीडीएस, फूड प्रोसेसिंग सेंटर, बिजली-पंखे की दुकानें, फल-सब्जी की दुकानें, चिकन, मटन और अंडे की दुकानें, स्टेशनरी, हाइवे के ढाबे,
किराना दुकानें, खाद्य पदार्थ पैकेजिंग करने वाले

ramendra singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned