scriptgaw me khet-khar, jamin nhi bchega to fir gawwale kha jayenge | ‘बिकास के गंगा’ म धारे-धार बोहवत हेे जनता | Patrika News

‘बिकास के गंगा’ म धारे-धार बोहवत हेे जनता

गांव म खेत-खार, जमीन नइ बांचही त गांव वालेमन कहां जाहीं? गांवमन म तरिया नदावत हे। मइदान नइ बाचत हे। रूखराई ल उजाड़त हें। ये कोती कोनो नइ सोचत हे। कारखाना लगाव, कालोनी बसाव, सडक़ बनाव। बस आजकल इही ल बिकास समझे-माने जावत हे। किसान जाय चूल्हा म।

रायपुर

Published: January 10, 2022 04:34:18 pm

मितान! हमर देस ह बहुेतच बडक़ा हे। डेढ़ सौ करोड़ के आबादी हे। दिनोंदिन अरबपति, करोड़पति, लखपतिमन के गिनती बाढ़त जावत हे। अकास, भुइंया अउ पानी याने सबे कोती बिकास के ‘गंगा’ बोहाय के हल्ला मचे हे। सिक्छा, सडक़, सहर बाढ़त हे। परयटन, उद्योग फरत-फूलत हे। फेर, गरीबमन अउ गरीब होवत जावत हें। अन्नदाता किसानमन बिन मारे मरत हें। फेर, सरकार चलइयामन ल ‘बिकास-बिकास’ के ढिंढोरा पीटे ले फुरसत नइये।
सिरतोन! हमर देस म जात-धरम, ऊंच-नीच, बड़े-छोटे, गरीब-बड़हर के लड़ई-झरगा ह खत्मेच नइ होवत हे। आजो छोटे जात के मनखे कहिके लोगनमन ल हीने जाथे। कतकोन जगा अलग बस्ती, अलग तरिया-कुआं के बेवस्था होथे। दूल्हा ल घोड़ा म घलो नइ चघन देवंय। लोगनमन सिक्छित होवत जावत हें, फेर छुआछूत के भेदभाव ल नइ छोड़ सकत हें। मनखे ल मनखे नइ मानत हें त फेर अइसन सिक्छा, अइसन बिकास के का कोनो मतलब हे! कुल मिला के अजादी के पहिली जइसे समाज ह रिहिस, वोमे कानून के डर के सेती बस थोरबहुत दिखावा बर बदलाव आय हे तइसे लागथे।
मितान! गांवमन म अन्नदाता किसानमन करजा-बोड़ी म लदा के घलो खेती-किसानी करथें। अपन खून-पसीना ओगरा के देसवासीमन बर अन्न उपजाथें। जादाझन किसानमन सिंचाई बर भगवान भरोसा हें। बाढ़त महंगई के जमाना म खेती-किसानी ह घाटा के सौदा होगे हे। अइसने किसानमन ऊपर ‘बिलई ताके मुसवा बारी म सपट के’ जइसे जमीन दलाल अउ उद्योगपतिमन नजर गड़ाय रहिथें। एक दिन अइसने हालात के सेती किसानमन खेत-खार ल बेच के बनिहार बन जथें। अपने खेत म बने कारखाना म मजदूरी करथें। हरियर-हरियर दिखत गांव ह करिया-करिया हो जथे। गांव ह न गांव रहि जाय, न सहर बन पाय। वोइसने किसान ह न किसान रहि जाय, न बनिहार
बन पाय।
सिरतोन! गांव म खेत-खार, जमीन नइ बांचही त गांव वालेमन कहां जाहीं? गांवमन म तरिया नदावत हे। मइदान नइ बाचत हे। रूख-राई ल उजाड़त हें। ये कोती कोनो नइ सोचत हे। कारखाना लगाव, कालोनी बसाव, सडक़ बनाव। बस आजकल इही ल बिकास समझे-माने जावत हे। किसान जाय चूल्हा म। लोगनमन बेघर-बार होवंय त होवन दे। गांववालेमन बेरोजगार होवत हें त वोकर किसमत। साहेबमन ल कमीसन से मतलब। नेतामन ल पद से मतलब। सरकार चलइयामन ल सत्ता सुख से मतलब।
जब सरकार चलइयामन ल सरकार बचाय के संसों हे। बिपक्छी पारटी वालेमन ल सरकार बनाय के चिंता हे। राजनीति के खेल ले पक्छ-बिपक्छ कोनो नइ उबरत हें। जंगल, जमीन अउ जनता जनारदन के सुध लेवइया नजर नइ आवत हे, त अउ का-कहिबे।
‘बिकास के गंगा’ म धारे-धार बोहवत हेे जनता
‘बिकास के गंगा’ म धारे-धार बोहवत हेे जनता

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.