रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के रूप में विकसित होंगे गोठान

  • सुराजी गांव की कल्पना छत्तीसगढ़ में होगी साकार
  • 1.54 लाख से अधिक पशुपालकों के खाते में जमा किए 4.94 करोड़ रुपए

By: Anupam Rajvaidya

Published: 25 Feb 2021, 10:01 PM IST

रायपुर. रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के रूप में गोठानों को विकसित किया जाएगा। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने यह बड़ा ऐलान किया है। भूपेश बघेल ने गोधन न्याय योजना की 14वीं किस्त के रूप में छत्तीसगढ़ के एक लाख 54 हजार 423 पशुपालकों के खाते में 4 करोड़ 94 लाख रुपए जमा किए।

ये भी पढ़ें... मोदी सरकार ने छत्तीसगढ़ समेत कई राज्यों में भेजे उच्च स्तरीय दल
सीएम भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ विधानसभा के समिति कक्ष में गुरुवार को कैबिनेट की बैठक के बाद पशुपालकों के खाते में 14वीं किस्त की राशि का अंतरण किया। सीएम ने कहा कि गोधन न्याय योजना सहित प्रदेश के गोठानों में मशरूम उत्पादन, कुक्कुट उत्पादन, मछलीपालन, बकरीपालन, राइस मिल, कोदो-कुटकी और लाख प्रोसेसिंग जैसी विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से हजारों लोगों को रोजगार मिला है।
ये भी पढ़ें...छत्तीसगढ़ में महिलाओं पर अत्याचार को लेकर सरकार को घेरा
मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि गोठानों में अधिक से अधिक आर्थिक गतिविधियां संचालित कर महिलाओं और ग्रामीणों को रोजगार से जोडऩे की आवश्यकता है। गोठानों को रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के रूप में विकसित कर सुराजी गांव की कल्पना को हम साकार करेंगे। कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने इस अवसर पर कहा कि गोधन न्याय योजना के अंतर्गत हर 15 दिन में गोबर खरीदी की राशि का भुगतान पशुपालकों और गोबर संग्राहकों को किया जा रहा है।
ये भी पढ़ें...नक्सली हमलों में दो जवान शहीद, एक जवान घायल

Show More
Anupam Rajvaidya Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned