पीएम आवास बनाने में लापरवाही बरतना इन 900 हितग्राहियों को पड़ गया महंगा, एप से हटा नाम

लंबे समय से राशि मिलने के बाद भी आवास बनाने में रुचि नहीं लेने वाले लापरवाह 957 हितग्राहियों का आवास एप से हटा दिया गया है।

By: Akanksha Agrawal

Published: 17 Jul 2019, 10:00 PM IST

देवभोग. आवास बनाने में लापरवाही बरतना ब्लाक के 957 हितग्राहियों को महंगा पड़ गया। लंबे समय से राशि मिलने के बाद भी आवास बनाने में रुचि नहीं लेने वाले लापरवाह 957 हितग्राहियों का आवास एप से हटा दिया गया है।

बताया गया है कि बार-बार नोटिस जारी किए जाने के बाद भी ये हितग्राही आवास को पूरा करने में रुचि नहीं दिखा रहे थे। वहीं 12 महीने के दिए गए समय सीमा में आवास पूरा नहीं होने के चलते इस तरह की कार्रवाई राज्य स्तर से की गई है।

मामले में सीईओ मोहनीश आनंद देवांगन ने बताया कि राज्य स्तर से की गई कार्रवाई के बाद हितग्राहियों को अब आगामी किस्त की राशि नहीं मिल सकेगी। वहीं राशि पाने के लिए हितग्र्राहियों ने आवास पूरा करना होगा, जिसके बाद डीले हाउस में संबंधित हितग्राही का जीओटेकिंग करने के बाद ही उसे बची हुई आवास की राशि मिल पाएगी।

नोटिस का भी नहीं पड़ा असर
सीईओ मोहनीश आनंद देवांगन ने बताया कि हितग्राहियों को राशि जारी किए जाने के बाद लगातार उनसे संपर्क कर आवास पूरा करने के लिए कहा जा रहा था। वहीं आवास मित्रों के साथ ही ब्लाक समन्वयक, ,तकनीकी सहायक की टीम घर-घर जाकर संपर्क करते हुए आवास पूरा करने के लिए हितग्राहियों को बार-बार समझाईश दे रहे थे। समझाईश का किसी प्रकार का कोई असर नहीं पड़ा। जिसके बाद चार-चार बार सभी हितग्राहियों को नोटिस जारी कर बताया गया था कि समय-सीमा में अपना आवास पूरा कर लें, इसके बाद भी हितग्राहियों का रवैया ऐसा ही बना रहा।

इन पंचायतों के हितग्राहियों के नाम हट गए
जनपद सीईओ मोहनीश आनंद देवांगन ने बताया कि अमाड़ के 5, बाड़ीगांव के 21,बरबाहली के 30, बरकानी के 1,भतराबहली के 54, चिचिया के 26, दहीगांव के 16, दरलीपारा के 9, देवभोग के 9, धौराकोट के 10, घुमरगुड़ा के 12, दीवानमुड़ा के 5, डोहेल के 6, डुमरबाहाल के 5, डुमरपीटा के 19, गाड़ाघाट के 54, गंगराजपुर के 3, घोघर के 6, गिरसूल के 1, गोहेकेला के 5, गोहरापदर के 1, झाखरपारा के 1, झिरीपानी के 27, कदलीमुड़ा के 61, कैंटपदर के 2, करलागुड़ा के 19, कर्चिया के 55, खोकसरा के 23, खुटगांव के 57, कोडक़ीपारा के 2, कोसमकानी के 16, कुम्हड़ईकला के 17, कुम्हड़ईखुर्द के 8, लाटापारा के 2, माड़ागांव के 5, माहुलकोट का 26, मोखागुड़ा का 28, मुड़ागांव का 5, मुंगझर का 23, मुंगिया का 12, निष्टीगुड़ा का 111, फलसापारा का 116, पुरनापानी का 22, सुकलीभांठा (पुराना) 22, सरगीगुड़ा का 2, सेनमुड़ा का 3, सितलीजोर का 98, सुकलीभांठा (नवीन) का 4, सुपेबेड़ा का 7, उसरीपानी के 2 हितग्राहियों की लगातार बढ़ती जा रही लापरवाही और आवास के प्रति उदासीनता के चलते आवास एप से इन सभी हितग्राहियों का नाम राज्य स्तर से हटा दिया गया है।

 

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News

एक ही क्लिक में देखें Patrika की सारी खबरें

Akanksha Agrawal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned