वीवीआईपी के लिए सरकार खरीदेगी 10 बुलेटप्रुफ कारें, 5.61 करोड़ खर्च होंगे

राज्य सरकार विशिष्ट और अतिविशिष्ट लोगों की सुरक्षा के लिए शीघ्र ही बुलेट प्रुफ कार खरीदेगी।

By: अभिषेक जैन

Published: 22 Aug 2017, 12:54 PM IST

राकेश टेंभुरकर/रायपुर . राज्य सरकार विशिष्ट और अतिविशिष्ट लोगों की सुरक्षा के लिए शीघ्र ही बुलेट प्रुफ कार खरीदेगी। माओवादी हमले की आशंका को देखते हुए 10 वाहन खरीदी करने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए करीब 5 करोड़ 61 लाख रुपए खर्च किए जाएगें। शासन से स्वीकृति मिलने के बाद राज्य पुलिस मुख्यालय के अधिकारी इसकी कवायद में जुटे हुए है। इंटेलीजेंस की टीम विशेषज्ञों के साथ लगातार अलग-अलग कंपनियों के बुलेट प्रुफ वाहनों का परीक्षण करने में जुटी हुई है। सुरक्षा मानकों को पूरा नहीं करने वाली पुराने वाहनों का चिन्हांकन किया जा रहा है। खरीदी करने के बाद उनके स्थान पर सुरक्षा बेड़े में नई वाहनों को शामिल किया जाएगा। बताया जाता है कि प्रोटोकाल के अनुसार इन वाहनों का वितरण किया जाएगा।


राज्य में वीआईपी और वीवीआईपी की सुरक्षा के लिए 50 बुलेटप्रुफ वाहन है। इसमें करीब 14 स्कार्पियो, 6 सफारी और एंबेसडर सहित अन्य वाहन शामिल है। यह वाहन प्रदेश के सभी 27 जिलों के एसपी, आईजी के साथ ही पुलिस मुख्यालय के अफसरों और जेड प्लस सुरक्षा वाले जनप्रतिनिधियों को आवंटित की गई है। गृहविभाग के अधिकारिक सूत्रों ने बताया कि विशेषज्ञों की अनुशंसा के बाद करीब 13 बुलेट प्रुफ वाहनों में सुरक्षा खामी को देखते हुए उन्हें हटाया जाएगा।

बुलेटपु्रफ वाहन वीवीआईपी
स्कार्पियो, 6 सफारी और एंबेसडकर सहित अन्य वाहन 13 बुलेट पु्रफ वाहनों में सुरक्षा खामी की वजह से हटाया गया है जिलो के एसपी, आईजी के साथ जेड प्लस सुरक्षा वाले जनप्रतिनिधियोंको आवंटित की गई की सुरक्षा के लिए बुलेटप्रुफ कार में काफी करीब से आटोमेटिक गन या बंदूक से गोली चलाने पर भी इसका असर नहीं होता। इस कार में शीशे से लेकर वाहन की बाडी और कार के चक्के तक बुलेटप्रुफ होते है। यह देखने में सामान्य कांच की तरह ही दिखाई देता है। लेकिन, उच्च तकनीक का होने के कारण इस पर गोली और हल्के विस्फोट का असर नहीं होता। बताया जाता है कि राज्य निर्माण के बाद बंटवारे में मध्यप्रदेश से करीब २५ बुलेटप्रुफ एंबेसडर कार मिली थी। इसमें से अधिकांश के खराब होने और माओवादी गतिविधियों में इजाफा होने के बाद सफारी और स्कार्पियों वाहनों वाहन खरीदे गए थे।

खरीदी होगी
-वीआईपी और वीआईपी सुरक्षा को देखते हुए बुलेट प्रुफ वाहन खरीदे जाएंगे। राज्य सरकार ने स्वीकृति के साथ ही फंड भी आवंटित किया है।
रामसेवक पैकरा, गृहमंत्री, छत्तीसगढ़

अभिषेक जैन
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned