रायपुर में शादी समारोह में कोरोना प्रोटोकॉल की उड़ी धज्जियां, दूल्हा सहित 22 लोग संक्रमित, मचा हड़कंप

राजधानी रायपुर में 7 दिन पहले डीडीनगर रोहणीपुरम में एक शादी में शामिल 22 लोग संक्रमित पाए गए हैं। इनमें दूल्हा भी शामिल है। मचा गया हड़कंप।

By: Ashish Gupta

Updated: 16 Jul 2021, 10:48 AM IST

रायपुर. राजधानी रायपुर में 7 दिन पहले डीडीनगर रोहणीपुरम में एक शादी में शामिल 22 लोग संक्रमित पाए गए हैं। इनमें दूल्हा भी शामिल है। मगर, सबसे बड़े आश्चर्य की बात यह है कि इसकी जानकारी रायपुर स्वास्थ्य महकमे तक को नहीं है। इसकी बड़ी वजह है नियमानुसार कांटेक्ट ट्रेसिंग न होना या यूं कहें कि कांटेक्ट ट्रेसिंग के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति होना। उधर, शादी समारोह जैसे आयोजनों में कोरोना प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं।

यह भी पढ़ें: Corona Alert: कोरोना की यही रफ्तार रही तो छत्तीसगढ़ में 9 दिन बाद मरीज 10,00,000 पार

पत्रिका को मिली जानकारी के मुताबिक डीडीनगर में हुई इस शादी में वर और वधु पक्ष दोनों ही रायपुर के रहने वाले हैं। शादी डीडीनगर से हुई। इस दौरान बड़ी संख्या में मेहमान जुटे। मगर, जब दो बुजुर्गों की तबीयत बिगड़ी तो उनका कोरोना टेस्ट करवाया गया। दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद जितने लोग भी समारोह में सम्मिलित हुए हैं, सभी को सूचना दी गई। तत्काल कोरोना टेस्ट करवाने के लिए कहा गया। साथ ही इन बुजुर्गों के संपर्क वाले परिवार के सदस्यों की जांच करवाई गई, जिसमें दूल्हा पॉजिटिव मिला, दुल्हन की रिपोर्ट निगेटिव आई। ये सभी होम आईसोलेशन में हैं।

यहां हुई चूक
जानकारी के मुताबिक शादी होने के बाद सभी अपने-अपने घर लौट गए। जब इन्होंने जांच करवाई तो पता अपने घर का लिखवाया। चूंकि कांटेक्ट ट्रेसिंग हो नहीं रही है इसलिए इनसे पूछा भी नहीं गया कि आप कहां गए थे? कब गए थे? न ही इन लोगों ने बताया। इस प्रकार से यह बड़ी चूक हर मामले में हो रही है। यही वजह है कि रोजाना 15-20 और बीते दिनों तो 44 मरीज रिपोर्ट हुए थे।

यह भी पढ़ें: विदेश जाने वाले 28 दिन में लगवा सकते हैं कोविशील्ड की दूसरी डोज, पहले करना होगा ये काम

शादी में 50 की अनुमति, आने वालों की गिनती नहीं
कलेक्टर ने शादी समारोह में सिर्फ 50 लोगों की मौजूदगी की अनुमति दी है, मगर इस आदेश का पालन न लोग कर रहे हैं, न प्रशासन करवा पा रहा है। बड़ी संख्या में भीड़ जुट रही है। पहले जैसे आयोजन होने शुरू हो चुके हैं। यहां की सड़क पर बारात निकलने लगी हैं, जिनमें किसी भी प्रकार के कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं हो रहा है। यहां तक की राज्य के बाहर से आने वाले लोगों की किसी स्तर पर जांच नहीं हो रही है।

स्वास्थ्य विभाग ने दिए समारोह में निगरानी के दिए निर्देश
राज्य कांटेक्ट ट्रेसिंग टीम के सदस्य डॉ. कमलेश जैन का कहना है कि सभी जिलों को सभी प्रकार के आयोजनों पर नजर रखने के निर्देश दिए हैं। रेंडम सैंपलिंग करने भी कहा गया है। कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करवाने की आवश्यकता है। वरना स्थिति कभी भी गंभीर हो सकती है।

यह भी पढ़ें: कोरोना मरीजों की संख्या 300 के अंदर सिमटी, इस जिले में फिर बढ़े केस, केंद्र ने किया अलर्ट

रायपुर सीएमएचओ डॉ. मीरा बघेल ने कहा, डीडीनगर को लेकर मैं चिंतिंत हूं। मगर, शादी समारोह में शामिल 20-22 लोग संक्रमित मिले हैं, ऐसा जानकारी नहीं है। फिर भी पता करवाती हूं।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned