गुरु घासीदास जयंती समारोह आज, जैतखाम में लहराएगा नया पालो

आयोजन समिति गुरु घासीदास साहित्य एवं संस्कृति अकादमी के अध्यक्ष केपी. खण्डे, महासचिव डॉ. जेआर. सोनी एवं प्रवक्ता चेतन चंदेल ने बताया कि कार्यक्रम का शुभांरभ दोपहर 2 बजे राष्ट्रीय साहित्य संगोष्ठी से होगा, जिसका विषय 'भारतीय समाज में सतनाम पंथ का प्रभाव' है।

By: Karunakant Chaubey

Updated: 18 Dec 2020, 10:25 AM IST

रायपुर. सतनाम पंथ के महान संत गुरु घासीदास की 264वीं जयंती शुक्रवार को धूमधाम से मनेगी। शहर के अनेक जगहों पर पवित्र जैतखाम की पूजा-अर्चना कर सफेद ध्वज (नया पालो) लहराएंगे। वहीं सतनाम भवन खमतराई में जोड़ा जैतखाम की पूजा कर 264 दीप जगमगम होंगे। गुरु पर्व की पूर्व संध्या पर महिलाओं, युवतियों और बच्चों के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित हुआ।

राजधानी में सार्वजनिक जयंती समारोह का मुख्य आयोजन न्यू राजेन्द्र नगर स्थित सांस्कृतिक भवन प्रांगण में आयोजित होगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल होगे। अध्यक्षता नगरीय प्रशासन एवं श्रम मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया करेंगे। विशिष्ट अतिथि स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत, विधायकगण सत्यनारायण शर्मा, कुलदीप जुनेजा, विकास उपाध्याय, महापौर एजाज़ ढ़ेबर, दिनेश साघ (मुंबई) उपस्थित रहेंगे।

आयोजन समिति गुरु घासीदास साहित्य एवं संस्कृति अकादमी के अध्यक्ष केपी. खण्डे, महासचिव डॉ. जेआर. सोनी एवं प्रवक्ता चेतन चंदेल ने बताया कि कार्यक्रम का शुभांरभ दोपहर 2 बजे राष्ट्रीय साहित्य संगोष्ठी से होगा, जिसका विषय 'भारतीय समाज में सतनाम पंथ का प्रभाव' है।

शाम 6 बजे होगा अलंकरण समारोह

प्रवक्ता चंदेल ने बताया कि संध्या 5 बजे पंथी व मंगल आरती के साथ 40 फीट ऊंचे जैतखाम में क्रेन की सहायता से सफेद ध्वज का नया पालों चढ़ाया जएगा। इसके बाद भिलाई की अनुसूईया बंजारे कलाकारों के साथ भक्तिमय प्रस्तुति देगी। शाम 6 बजे अलंकरण समारोह में 11 विभूतियों को उनके उत्कृष्ट कार्यों के लिए सम्मानित किया जाएगा।

सतनाम भवन 264 दीपों से होगा जगमग

सतनामी समाज खमतराई की ओर से गुरुपर्व हर्षोल्लास से मनाया जाएगा। अध्यक्ष सुरेश लहरे एवं सचिव गोविंद सोनवानी ने बताया कि जोड़ा जैतखाम की पूजा-अर्चना, मंगल गीत, पंथी नृत्य के माध्यम सेगुरु बाबा का स्मतरण करेंगे। सुबह ५ से ७ बजे पंथीदल की प्रस्तुति सतनाम प्रभातफेरी के साथ होगी। जोड़ा जैतखाम एवं गुरुगद्दी के समक्ष २६४ दीप प्रज्वलित करेंगे। मंगलगीत गाते हुए नया पालो चढ़ाएंगे। पंथी नृत्य, चौका आरती के साथ रात ९ बजे कार्यक्रम का समापन होगा। गुरु प्रसादी वितरित की जाएगी।

बिरगांव में सामुदायिक भवन का लोकार्पण

गुरु घासीदास जयंती उत्सव समिति बिरगांव की ओर से विविध कार्यक्रम किए जाएंगे। समिति के रवि महिपाल, कृष्णा चेलक ने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए सेनिटाइजर, मास्क वितरण किया जाएगा। शाम ७ बजे विधायक सत्यनारायण शर्मा के मुख्य आतिथ्य में पुरानी बस्ती बिरगांव स्थित सामुदायिक भवन और शुक्रवारी बाजार में रंग मंच का लोकार्पण समारोह होगा। टोलियां पंथी गीत और नृत्य की प्रस्तुति देंगी।

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned