तेज हवा और बारिश से सब्जी व रबी फसल को भारी नुकसान

बाड़ी में पानी भरने से सब्जी उत्पादक किसान चिंतित, गेहूं व चना फसल को भी पहुंची क्षति

 

By: dharmendra ghidode

Published: 20 Feb 2021, 05:58 PM IST

बलौदाबाजार. नगर समेत आसपास पूरे अंचल में मंगलवार-बुधवार को मौसम में आए एकाएक परिवर्तन की वजह से तेज हवा के साथ आधा घंटे तक जोरदार बारिश हुई। वहींं, बुधवार दिनभर रुक-रुककर बारिश होती रही। बेमौसम बारिश से जहां लोगों को उमस गर्मी से राहत मिली है, वहीं तेज बारिश की वजह से रबी की फसलों के साथ ही साथ गेहूं तथा सब्जियों की फसल को तगड़ा नुकसान हुआ है। आंधी की वजह से आम के पेड़ों की अधिकांश मंजरी तथा छोटे-छोटे फल भी झड़ गए हैं।
मौसम में आए एकाएक बदलाव के चलते मंगलवार सायं लोगों को फरवरी महीने में बरसात के मौसम का एहसास हो गया। तेज हवा व बारिश के चलते मौसम में ठंडकता आ गई। तेज हवा तथा बारिश की वजह से सब्जियों की बाड़ी में पानी भर गया है। जिससे पालक, मेथी, चौलाई, गोभी, टमाटर की फसल जमीन पर लोट गई है। सब्जी उत्पादक किसानों तोरण साहू, मुरितराम यादव, हेमशंकर यादव आदि ने बताया कि सब्जी की फसल में पानी रुकना नहीं चाहिए। पानी रुकने से सब्जी के पौधे जल्दी खराब होते है तथा बाद में सब्जियों में कीट प्रकोप की आशंका बढ़ जाती है। शीत ऋतु के बाद अभी किसानों ने ग्रीष्म ऋतु की सब्जियों भिंडी, टमाटर, चौलाई भाजी आदि तैयार करनी प्रारंभ करी थी, परंतु बेमौसम बारिश से सब्जियों के छोटे पौधे गिरकर टूट गए हैं तथा खराब हो गए हैं। बुधवार को हुई मूसलाधार बारिश से सब्जी की बाड़ी में पानी भरा हुआ है। वहीं, गुरुवार तथा शुक्रवार को भी अंचल में बदली ही छाई रही है, जिससे बाड़ी में जमा पानी भी पूरी तरह से नहीं सूख पाया है। किसानों ने बारिश से चना तथा गेहूं की फसल को भी नुकसान होने की बात कही है। किसानों के अनुसार बारिश की वजह से रबी फसलों में भी बीमारी होने की आशंका बढ़ जाती है।

आम की अधिकांश मंजरी झड़ गई
फलों के राजा आम की फसल को इस साल मंजरी लगते ही मौसम से कुछ ज्यादा ही नुकसान झेलना पड़ा है। इस वर्ष आम के वृक्षों में ढेर सारी मंजरी लगी है, जिसकी वजह से इस वर्ष आम की फसल जोरदार होने की संभावना जताई जा रही है। परंतु मंजरी लगते ही बुधवार की तेज हवा तथा बारिश में आम की मंजरी झड़ गई है। मौसम में बदलाव की वजह से लोगों को भीषण गर्मी से तो राहत मिली है, परंतु आम की फसल को जमकर नुकसान हुआ है।

dharmendra ghidode
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned