राजधानी समेत प्रदेश के कई इलाकों में झमाझम बारिश, सड़कों पर तालाब जैसा नजारा

राजधानी समेत प्रदेश में कहीं तेज तो कहीं पर मध्यम बारिश हुई। कुछ जगहों पर भारी बारिश भी हुई। शनिवार को चार बजे बादलों की गड़गड़ाहट के साथ राजधानी में तेज बारिश शुरू हुई।

By: Ashish Gupta

Published: 11 Sep 2021, 07:56 PM IST

रायपुर. राजधानी समेत प्रदेश में कहीं तेज तो कहीं पर मध्यम बारिश हुई। कुछ जगहों पर भारी बारिश भी हुई। शनिवार को चार बजे बादलों की गड़गड़ाहट के साथ राजधानी में तेज बारिश शुरू हुई। जो शाम साढ़े पांच बजे तक होती रही है। इस दौरान बादलों और बिजली की गड़गड़ाहट होती रही। करीब डेढ़ घंटे तक राजधानी में हुई तेज बारिश से शहर पूरी तरह से तरबतर हो गया।

किसी जगह पर प्रमुख मार्ग पर तालाब जैसा नजारा रहा, तो कुछ जगहों पर घरों में घुटने तक पानी भर गया। शापिंग माल और पुलिस थाने में पानी भर गया। मंत्री बंगले की बाउंड्रीवाल भी गिर गई। तेज बारिश के चलते शहर के अधिकांश इलाकों में एक घंटे तक बिजली भी गुल रही। शहर में शाम को डेढ़ घंटे में 30 मिमी बारिश हुई। जबकि शनिवार की सुबह 8.30 बजे तक 13.8 मिमी बारिश दर्ज की गई थी।

इस सिस्टम के कारण हो रही बारिश
मौसम विभाग के अनुसार एक निम्न दाब का क्षेत्र पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी और उससे लगे उत्तर- पूर्व बंगाल की खाड़ी के ऊपर स्थित है, इसके साथ ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रवाती घेरा 7.6 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है। मानसून द्रोणिका जैसलमेर, पूर्वी राजस्थान, नौगांव, पेंड्रा रोड, संबलपुर, पूरी और उसके बाद पूर्व- मध्य बंगाल की खाड़ी तक 1.5 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है। एक द्रोणिका उत्तर-पूर्व अरब सागर से गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, उड़ीसा होते हुए निम्न दाब के केंद्र पूर्व- मध्य बंगाल की खाड़ी तक 1.5 किलोमीटर से 7.6 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है।

यह भी पढ़ें: विदाई से पहले मानसून फिर सक्रीय, कुछ दिन और जारी रहेगा बारिश का दौर, जानिए आगे कैसा रहेगा मौसम

आज कैसा रहेगा मौसम
मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा के अनुसार प्रदेश में रविवार 12 सितंबर को अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज चमक के साथ छीटें पडऩे की संभावना है। राजधानी रायपुर में आकाश मेघमय रहेगा। गरज-चमक के साथ एक-दो बार तेज बारिश होने की संभावना है।

कहां कितनी बारिश हुई
मरवाही 70 मिमी, भानुप्रतापपुर और बस्तानार में 60-60 मिमी, भोपालपट्टनम, पखांजूर, लोहंडीगुड़ा में 50-50 मिमी, जगदलपुर, दुर्गकोंदूल, तोकापाल, बेमेतरा, लखनपुर, मानपुर, देवभोग, सहसपुर लोहारा में 40-40 मिमी, तमनार, बस्तर, राजपुर, कोंटा, जांजगीर, भैरमगढ़, अंतागढ़, बेरला, दंतेवाड़ा में 30-30 मिमी बारिश हुई। इसके अलावा अन्य जगहों पर इससे कम बारिश दर्ज की गई।

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ के 23 जिलों की 72 तहसीलों में सूखे की आशंका, फसलों की क्षति का आंकलन शुरू करने के निर्देश

प्रदेश में गरज-चमक के साथ एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है।
प्रदेश में अधिकतम तापमान में मामूली गिरावट के साथ विशेष परिवर्तन होने की संभावना नहीं है।
भारी वर्षा का क्षेत्र मुख्यत: दक्षिण छत्तीसगढ़ के साथ मध्य छत्तीसगढ़ रहने की संभावना है।

latest weather update
Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned