हिस्ट्रीशीटरों की नहीं हो रही निगरानी, कारोबार की आड़ में कर रहे अपराध

- कई इलाकों में चश्मा बेचने की आड़ में अवैध कब्जा .
- जयस्तंभ में कारोबारी की खुलेआम हत्या का मामला .

By: Bhupesh Tripathi

Updated: 16 Oct 2020, 01:16 AM IST

रायपुर . शहर के हिस्ट्रीशीटरों की निगरानी नहीं हो रही है। कई हिस्ट्रीशीटर कारोबार की आड़ में अपना अपराध को अंजाम दे रहे हैं। जयस्तंभ चौक में कारोबारी की खुलेआम चाकू मारकर हत्या इसका सबसे बड़ा उदाहरण हैं। हत्या के आरोपी उरकुरा में रहते हैं। आरोपी पहले भी चाकूबाजी कर चुके हैं। इसके बाद भी पुलिस को उसकी खबर नहीं थी। गोलबाजार और मौदहापारा थाना घटना स्थल के पास में ही है। घटना से तय हो गया है कि हिस्ट्रीशीटरों की गतिविधियों पर पुलिस की नजर नहीं है। दूसरी नगर निगम के अधिकारियों की लापरवाही भी इसकी बड़ी वजह है। जयस्तंभ चौक से लेकर कोतवाली चौक तक सड़क के दोनों किनारे में चश्मा और कपड़ा बेचने वालों ने दुकान लगा ली है। एक-एक दुकान में तीन-चार लोग रहते हैं। इन लोगों के बारे में न पुलिस के पास रिकार्ड है और न ही नगर निगम के पास। शास्त्रीबाजार, गोलबाजार, सदरबाजार और आसपास के इलाके में पॉकेटमारी, नशे की गोलियां बेचना, सट्टा आदि की घटनाएं लगातार सामने आ रही है।

जयस्तंभ से लेकर कोतवाली तक कब्जा
पुलिस और नगर निगम की टीम गोलबाजार में अतिक्रमण करने वाले कारोबारियों के खिलाफ कार्रवाई करती है, लेकिन व्यस्त मार्ग होने के बावजूद सड़क में दुकान लगाने वालों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करती। जयस्तंभी चौक से लेकर कोतवाली चौक तक सड़क के दोनों किनारे चश्मा, बेल्ट आदि बेचने वालों ने कब्जा जमा लिया है। इसी तरह पंडरी इलाके में भी विधानसभा रोड में जगह-जगह चश्मे की दुकान लगाकर अतिक्रमण किया जा रहा है।

उरकुरा में गांजा-शराब का धंधा
जयस्तंभ चौक के पास कारोबारी इरशाद अहमद की हत्या करने वाले मोहसीन और शफीक दोनों सड्ढू बीएसयूपी आवास में रहते हैं। उनका उरकुरा में भी रहना होता है। सड्ढू में भी कुछ लोग गांजा, शराब की जमकर अवैध बिक्री कर रहे हैं। उरकुरा में भी गांजा तस्करी जोरों पर है। उल्लेखनीय है कि सड्ढू बीएसयूपी आवास में पिछले साल पुलिस वालों के साथ मारपीट भी की गई थी। बताया जाता है कि सड्ढू और उरकुरा में कुछ हिस्ट्रीशीटरों ने अपना अवैध कारोबार शुरू कर दिया है। पुलिस इन पर कार्रवाई नहीं कर पा रही है।

हिस्ट्रीशीटर दोबारा अपराध में शामिल होते हैं, तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। सभी प्रभारियों को निर्देश दिया गया है।
लखन पटले, एएसपी-शहर, रायपुर

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned