पुलिसकर्मियों को धक्का देकर फरार होने वाला हिस्ट्रीशीटर यासीन अली गिरफ्तार, जहां करता था कारोबार वहीं से अफसरों ने निकाला जुलूस

- अधिकारियों का बयान गांजा सप्लाई के दौरान आरोपी को दौड़ाकर पकड़ा
- आरोपी हिस्ट्रीशीटर के खिलाफ अलग-अलग थानों में केस दर्ज

By: Ashish Gupta

Published: 06 Jan 2021, 12:20 PM IST

Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

रायपुर. राजधानी रायपुर के पंडरी इलाके में अवैध कारोबार करके शहर का अपराध ग्राफ बढ़ाने वाले शातिर हिस्ट्रीशीटर यासीन अली ईरानी को पुलिसकर्मियों ने सोमवार की रात पकड़ा है। आरोपी का खौफ लोगों के अंदर से कम हो सके, इसलिए जिस इलाके में वो अवैध कारोबार करता था, वहां से कोर्ट तक पैदल जुलूस निकाला और न्यायालय में पेश किया।

न्यायधीश के निर्देश पर आरोपी को जेल दाखिल करवा दिया गया है। यासीन के उपर सट्टा खिलाने, नशे का अवैध कारोबार करने, मारपीट, रंगदारी, चाकूबाजी के दर्जनों केस रायपुर के अलग-अलग थाना में दर्ज है। पुलिस आरोपियों के साथियों का पता लगा रही है।

पुलिस कस्टडी से हो चुका है फरार
सितंबर 2020 में आरोपी यासीन की तलाश में रायपुर पुलिस के अधिकारियों ने ईरानी डेरा में दबिश दी थी। आरोपी को पकडऩे में पुलिस अधिकारी सफल भी हो गए थे और उसे घर से निकालकर पुलिस गाड़ी में बिठा दिया था।

आरोपी को पुलिसकर्मी ईरानी डेरा से लेकर निकल रहे थे, इस दौरान ईरानी डेरा की 40 से ज्यादा महिला पुलिस से भिड़ गई। इस बात का फायदा उठाकर आरोपी यासीन ने पुलिसकर्मियों को धक्का दिया और गाड़ी से कूदकर फरार हो गया था। आरोपी के फरार होने के बाद पुलिस अधिकारियों ने 35 से ज्यादा महिलाओं पर कार्रवाई की थी।

आधी रात नींद में सो रहे पति को कुल्हाड़ी से काटकर की हत्या फिर तीन बच्चों समेत कुएं में कूद गई पत्नी

चाकूबाजी से उठा था अपराध के क्षेत्र में नाम
यासीन पिछले कई वर्षों से लगातार शहर में अपराधिक गतिविधियों को अंजाम दे रहा है। शहर में उसका नाम पंडरी इलाके में हुई चाकूबाजी के बाद फेमस हुआ। यासीन ने विवाद के बाद युवक पर चाकू से इतने हमले किए, कि उसकी अतडिय़ा बाहर आई और मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

पुलिस ने कार्रवाई की, लेकिन बाहर आने के बाद वो सट्टा, नशे का कारोबार और रंगदारी करने लगा। राजनैतिक एप्रोच की वजह से कई बार पुलिस की गिरफ्त में जाने के बाद वो बच निकला। पुलिस की सख्ती के बावजूद ईरानी डेरा इलाके में बेखौफ अपराधिक गतिविधियां होती रही और जिम्मेदार खामोश रहे।

सरेंडर का हल्ला
पुलिस यासीन को गिरफ्तार करने की बात कह रही है। लेकिन जानकारों की मानें तो सोमवार की रात को यासीन ने रसूखदारों के कहने पर सरेंडर किया है। सरेंडर की वजह से 1 जनवरी को विधानसभा इलाके में हुई घटना बताई जा रही है। जानकारों की मानें तो विधानसभा इलाके में यासीन और उसके कुछ साथी पार्टी कर रहे थे। इस दौरान यासीन ने दुकान संचालक से पानी मंगाया।

पानी देने के लिए दुकान में खड़ी किशोरी चली गई, तो वहां यासीन और उसके साथियों ने छेडख़ानी कर दी। इस घटना की शिकायत विधानसभा पुलिस में पीडि़ता और उसके परिवार के सदस्यों ने की, तो पहले जिम्मेदारों ने घुमाया, लेकिन जनप्रतिनिधियों के पास मामला पहुंची पर शिकायत ले ली। नाबालिग से छेड़खानी का मामला तूल ना पकड़े, इसलिए केस दर्ज होने से पहले यासीन ने सरेंडर किया।

जेब्रा क्रॉसिंग से आगे गाड़ी खड़ी करने पर विधायक का कटा चालान, पटाया दो सौ रुपए का जुर्माना

विधानसभा थाना प्रभारी एम.आर. शारदुल ने बताया, 12 वर्षीय पीड़िता और उसके परिजनों ने आरोपी यासीन अली ईरानी के खिलाफ छेड़खानी और अभद्रता करने की शिकायत की है। पीड़िता की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर विवेचना की जा रही है।

मोवा थाना के निरीक्षक याकूब मेमन ने कहा, मुखबिरों से सूचना मिली थी, कि यासीन गांजा बेचने पंडरी इलाके में आ रहा है। मुखबिर की सूचना पर घेराबंदी की और आरोपी को रंगे हाथ गांजा और चरस के साथ गिरफ्तार किया। आरोपी से जब्त नशीली सामग्री की कीमत लगभग 1 लाख रुपए है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned